केंद्र सरकार और राज्य सरकार के विरोध में किसानों का धरना प्रदर्शन

केंद्र में काबिज मोदी सरकार व सूबे में काबिज योगी सरकार किसानों के लिए कर्ज माफी का ऐलान करने के साथ किसानों के हित की बात भले ही कर रही हो लेकिन सच तो यह है कि किसान आज भी बदहाली की स्थित में हैं व अपनी बदहाल स्थित पर आज भी आंसू बहा रहे हैं। अगर बात की जाए उत्तर प्रदेश के किसानों की तो उनपर कहीं बाढ़ का संकट तो कहीं सूखे का संकट होना अब आम बात हो गई है।

farmer, central government, yogi government, up, farmer loan
farmer against yogi government

हरदोई में किसान योगी सरकार द्वारा कर्ज माफी के बाद भी काफी परेशान हैं। बाढ़ और सूखे के जिसके चलते किसानों को अपनी लागत तक नहीं मिल पाती है। ऐसे में सरकार कर्ज माफी की बात भले ही कर रही हो लेकिन सच तो यह है कि किसान के पर कर्ज आज भी चढ़ा हुआ है। किसानों का 1 लाख तक का कर्जा सरकार ने माफ किया है लेकिन जिन किसानों पर एक लाख से उपर कर्ज है वह आज भी बदहाल हैं। जिनकी इस्थित दिन प्रतिदिन गिरती जा रही है। अगर किसानों के बारे में बताया जाए तो उनका मानना है कि सरकार ने उनके साथ वादाखिलाफी की है।

किसानों का मानना है कि सरकार ने उनके साथ वादाखिलाफी की है। किसानों का कहना है कि सरकार ने उनके लिए कोई भी काम नहीं किया है। कर्जमाफी के बाद किसानों की समस्या थमने का नाम ही नहीं ले रही है। लेकिन अब देखना यह है कि किसानों का उनकी समस्या का कब समाधान मिलता है। लेकिन किसानों पर बढ़ती समस्या सीएम योगी के लिए परेशानी खड़ी कर सकती है।