अभियान 48 के अंतरिक्ष यात्री पृथ्वी पर सुरक्षित उतरे

वॉशिंगटन। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के एक्सपेडिशन 48 के अंतरिक्ष यात्रियों का तीन सदस्यीय दल अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र (आईएसएस) पर 172 दिनों का मिशन पूरा कर बुधवार को सुरक्षित पृथ्वी पर लौट आया। नासा के जेफ विलियम्स और रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रॉस्कॉस्मोस के एलेक्सी ओवचिनिन व ओलेग स्क्रिपोचका सोयुज टीएमए-20एम अंतरिक्ष यान से कजाकिस्तान के झेजकजगन कस्बे में उतरे।

Nasa

दिग्गज नासा अंतरिक्ष यात्री जेफ ने अंतरिक्ष में अपने 534 दिनों का सफर पूरा कर लिया है। इतने दिनों तक अंतरिक्ष में रहने वाले वह नासा के इतिहास के पहले अंतरिक्ष विज्ञानी बन गए हैं।

ह्यूस्टन में स्थित नासा के जॉन्सन अंतरिक्ष केंद्र में आईएसएस के कार्यक्रम प्रबंधक किर्क शिरेमैन ने कहा, “जब अंतरिक्ष केंद्र का निर्माण कार्य चल रहा था, उस दौरान 2000 में पहली उड़ान से लेकर आज तक उनका ध्यान केवल विज्ञान, प्रौद्योगिकी विकास और व्यावसायीकरण को बढ़ावा देने पर केंद्रित रहा। यहां तक कि जेफ ने नासा के कॉमर्शियल क्रू प्रोग्राम के अंतर्गत भविष्य में अंतरिक्ष केंद्रों तक व्यावसायिक अंतरिक्ष यानों की पहुंच को आसान बनाने के लिए भी मदद की।”

उन्होंने कहा, “हम जेफ द्वारा पृथ्वी से दूर रहकर पृथ्वी के लिए किए गए अविश्वसनीय कार्य पर गर्व कर रहे हैं।” एक्सपेंडिशन 48 के सदस्यों ने एक साथ जीव विज्ञान, जैव प्रौद्योगिकी, भौतिक विज्ञान और पृथ्वी विज्ञान के क्षेत्र में परिक्रमा करने वाली एकल मानव प्रयोगशाला पर सवार होकर सैकड़ों अनुसंधानों में योगदान किया है।

(आईएएनएस)