पूर्व सैनिक ने दी चीन को उसके रवैये पर चेतावनी

इलाहाबाद। वीर सेनानी पूर्व सैनिक कल्याण समिति के बैनर तले पूर्व सैनिकों की रविवार को हुई एक बैठक में चीन के रवैये पर चिन्ता जताई गई। पूर्व सैनिकों ने कहा कि अगर चीन भारत की सीमा में घुसपैठ करने का अपना रवैया नहीं छोड़ता है तो हम अपना तिरंगा पेकिंग में फहराएंगे। बैठक में पूर्व सैनिकों ने अपनी सेवाएं देश के लिए पुनः समर्पित किए जाने की बात कही।

बता दें कि सभी ने एक स्वर से चीनी माल का बहिष्कार करने की शपथ ली तथा जनता से भी अपील की कि चीन के सामानों को न खरीदें और न ही बेचें। पूर्व सैनिकों ने शासन से भी अनुरोध किया कि चीन के सामान का भारत में प्रवेश वर्जित किया जाए। बैठक में पूर्व सैनिकों ने कहा कि अब तक उनकी प्रशासनिक स्तर की मांगों की सुनवाई जिला सैनिक बन्धु की बैठक में होती थी, लेकिन जिला सैनिक कल्याण अधिकारी की ढिलाई व कमियों से उनका समाधान नहीं हो पा रहा है।

साथ ही जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय इलाहाबाद में भी एक अधिवक्ता द्वारा कब्जा कर लिया गया है, शेष भाग ध्वस्त हो गया है, जिससे कार्यालय का कार्य बाधित हो रहा है। अधिकारी की सुस्ती से किसी का कार्य नहीं हो रहा है, जिससे लोग परेशान हैं। इस अवसर पर श्याम सुन्दर सिंह पटेल ने कहा कि संस्था ने इसकी जानकारी पिछले माह जिलाधिकारी के समक्ष रखी थी लेकिन सुधार नहीं किया गया। बैठक में जी.यादव, एस.एन.मिश्रा, अर्चना शुक्ला, सुरेश चन्द्रा, सी.एल.सिंह, बच्चालाल प्रजापति, सुधीर द्विवेदी, एन.के.वर्मा, रजनी वर्मा, राजेश्वरी पटेल, राधा देवी आदि उपस्थित रहे।