हर रोज शारीरिक संबंध बनाने से नहीं कम होती है फर्टिलिटी जाने इस खबर में

नई दिल्ली। शारीरिक संबंधों को लेकर कई अवधारणाएं और चर्चाएं होती हैं। कुछ लोगों का मानना है कि अति हमेशा नुकसानदायक होती है। इसलिए शारीरिक संबंधों में भी इस बात का ध्यान रखना चाहिए । कुछ लोगों का मानना है कि बेहतर स्वास्थ्य के लिए सप्ताह में एक बार शारीरिक संबंध बनाना स्वास्थ्य के लिहाज से बेहतर माना जाता है। लोगों का कहना है कि जो लोग रोज अपने पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध बनाते हैं। उनकी फर्टिलिटी पर भी गहरा असर पड़ता है। लगातार शारीरिक संबंधों के बनाने से पुरूषों में स्पर्म काउंट कम हो जाता है।

लेकिन इससे इतर अगर हम वैज्ञानिक तथ्यों पर नजर डालें तो पता चलता है कि हमारे शरीर में फ्रेश स्पर्म बनने में 24 से 36 घंटे का समय लगता है। लगातार अगर आप दिन में कई बार शारीरिक संबंध बनाते हैं तो आपके स्पर्म काउंट कम होंगे लेकिन ताजा बने स्पर्म से ये कमी दूर हो जाती है। इसके साथ ही ताजा स्पर्म में अधिक गतिशीलता होती है और इसके चलते आपकी फर्टिलिटी बेहतर रहती है। इसके साथ वैज्ञानिक और इस बात में शोध करने वाले बताते है कि अगर आपके शरीर में स्पर्म ज्यादा समय तक बना रहता है तो आपके शरीर की फर्टिलिटी को कम कर देता है। क्योंकि जैसे जैसे स्पर्म पुराना होता है उसके साथ ही उसकी तीव्रता कम होती जाती है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों की माने तो अगर कोई व्यक्ति शारीरिक संबंधों को इसलिए कम बनाता है कि उसके स्पर्म काउंट खत्म हो जाएंगे, तो वह गलत सोचता है। क्योंकि कोई भी व्यक्ति बिना स्खलित हुए बिना 7 दिनों तक ही रह सकता है। कभी-कभी स्खलित होने से पुरूष की फर्टिलिटी पर खतरा बन जाता है। इसलिए अगर आप अपनी फर्टिलिटी को बरकरार रखना चाहते हैं तो 2 या 3 दिन में आपको शारीरिक संबंध जरूर स्थापित कर लेना चाहिए। क्योंकि लगातार ओवम को जब फ्रेश स्पर्म मिलता है तो प्रेग्रेंसी के चांस बढ़ जाते हैं।