इस बार चुनावों पर आयोग की है पैनी नजर, जारी की गाइडलाइन

लखनऊ। 5 राज्यों में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान बुधवार को निर्वाचन आयोग ने कर दिया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए मुख्य निर्वाचन आयुक्त नसीम जैदी ने कहा कि इस बार चुनावों में कई नए और ठोस कदम उठाए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि सभी प्रदेशों के तमाम मतदान केंद्रों पर 4 पोस्टर लगाए जाएंगे। इस पोस्टर में मतदाताओं को केंद्र की जानकारी समेत अन्य जानकारी दी जाएगी। जैदी ने कहा कि राज्यों में पिछले विधानसभा चुनावों के दौरान मिली शिकायतों के मद्देनजर इस बार मतदान केंद्र की दीवार की ऊंचाई 30 इंच तक बढ़ाई जाएगी। उन्होंने स्पष्ट किया कि आयोग द्वारा यह कदम मतदाता के शरीर के ऊपर के हिस्से को गुप्त रखने के लिए उठाया गया है।

जवान भी देंगे वोट

इस बार चुनावों में वो जवान भी मतदान कर सकेंगे जो अपने घरों से दूर हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस में जैदी ने कहा कि अपने घरों से दूर तैनात जवान आगामी विधानसभा चुनावों में एकतरफा इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसमिशन का इस्तेमाल करके मतदान कर सकेंगे। गौरतलब है कि इस तरह की तकनीक का इस्तेमाल साल 2016 में पुडुच्चेरी में किया गया था जो कि सफल रहा था।

खर्च पर आयोग की नजर

नोटबंदी के बाद हो रहे विधानसभा चुनावों में खर्च होने वाले पैसे पर भी आय़ोग की निगाहें टिकी हुई हैं। नसीम जैदी ने कहा कि गोवा और मणिपुर में होने वाले विधानसभा चुनावों में प्रति उम्मीदवार 20 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे, जबकि पंजाब, उत्तर प्रदेश और उत्तराखण्ड में यह राशि 28 लाख रुपए हो जाएंगे। साथ ही अगर कोई उम्मीदवार चंदा लेता है या फिर टीवी पर विज्ञापन देता है तो उसका भी उसे आयोग को हिसाब देना होगा।