शिक्षामित्रों ने कमिश्नरी पर किया प्रदर्शन

मेरठ। देश के सबसे बडे सूबे उत्तर प्रदेश में अपनी मंगो को लेकर लगातार शिक्षामित्रों का आनदोलन जारी है। आपको बतादें कि सूबे की राजधानी लखनऊ सहित बागपत, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, हापुड़ जैसे तमाम जनपदों में दूसरे दिन भी शिक्षामित्रों ने अपना प्रदर्शन जारी रखा है। गुस्साए शिक्षा मित्रों ने मेरठ के कमिश्नरी चौराहे पर सामूहिक भीख मांगने के रूप में प्रदर्शन किया है।

education, workers, performed, commissioner, police, army, demands, begging
demand performed, commissioner

मेरठ में शिक्षामित्र कमिशनरी पर एकजुट होकर खडे रहे। गुस्साए शिक्षा मित्रों ने मेरठ के कमिश्नरी चौराहे पर सामूहिक भीख मांगकर प्रदर्शन किया है। शिक्षामित्रों ने हर आने-जाने वाले रहगीरों से कटोरे, हाथ व पल्ला फैलाकर भीख मांगी। शिक्षामित्र सप्रीम कोर्ट के फैसले का विरोध किया, जिसमें कोर्ट ने शिक्षामित्रों को हटाने का फरमान सुनाया है। टीवी स्क्रीन पर आप देख सकते है कि इतनी बड़ी संख्या में शिक्षामित्र चौराहे पर रोड के किनारे लाइन लगाकर भिखारियों की तरह बैठे हैं तथा भीख मांग रहे हैं। शिक्षामित्रों का कहना है कि अगर उनको हटा दिया गया तो वो बर्बाद हो जाएंगे, उनके घरों में खाने के लिए कुछ नहीं है, बच्चे भूखे मरने के लिए मज़बूर है।

आपको बताते चले शिक्षामित्र अपनी मांगो को लेकर काफी दिनों से आंदोलित है और लगातार कुछ न कुछ ऐसा कर रहे है जिससे सब का ध्यान उनके और उनकी समस्या के ऊपर केंद्रित हो सके और उनकी समस्या का निवारण किया जाए। उसी तराह अबकी बार शिक्षामित्र एक नए रूप में प्रदर्शन करते दिखाई दिए। शिक्षामित्रों ने कमिश्नरी चौराहे पर कटोरे, हाथ व पल्ला फैलाकर सामूहिक भीख मांगकर प्रदर्शन किया है। हलांकि सीएम योगी भी कोई न कोई रास्ता निकलने का शिक्षामित्रों को भरोसा दिला चुके हैं लेकिन उसके बाद भी प्रदेश भर में शिक्षामित्रों का आंदोलन लगातार जारी है। टकराव की आशंका से प्रशासन ने भारी फोर्स तैनात कर दिया गया है।