ईडी ने की बैंक घोटाले में 10 करोड़ की संपत्ति जब्त

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने देहरादून में उत्तराखंड ग्रामीण बैंक घोटाले में लिप्त लोगों की 10 करोड़ 11 लाख 20 हजार 870 रुपये की संपत्ति जब्त की। ईडी ने ये कार्रवाई मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत की है। प्रवर्तन निदेशालय की जांच में पता चला कि देहरादून के गुरप्रीत सिंह उर्फ नीरज कुमार और अन्य लोग, अशोक विरमानी, शिल्पा विरमानी, नरेश कुमार (एसबीआई अधिकारी), परमेश्वर, सुनील, राजू नाई, सुरेश उर्फ सतपाल बैंक घोटाले में शामिल थे| ये सभी हवाला कारोबार में भी लिप्त थे।

uttarakhand gramin bank
uttarakhand gramin bank

बता दें कि जांच के मुताबिक गुरप्रीत सिंह ने हेल्थ रिसर्च केयर सेंटर नाम से एक फर्जी बैंक अकाउंट खोला, फिर उसमें एसबीआई की पंचकूला शाखा के 13 करोड़ 53 लाख 10 हजार रुपये के फर्जी बैंक चेक जमा किए। बाद में आरोपियों ने इस राशि में से 7 करोड़ 83 लाख 34 हजार रुपये या तो दूसरे बैंक खातों में ट्रॉन्सफर कर दिए या निकाल लिए। बाद में पता चला कि ये आरोपी इसी तरह जयपुर और लुधियाना एसबीआई में भी 8 करोड़ 41 लाख रुपये का घोटाला पहले कर चुके थे।