चुनाव आयोग फेसबुक के माध्यम से नए मतदाता जोड़ेगा

नई दिल्ली। एक जुलाई से अपनी मतदाता सूची अपडेट करने के अपने अभियान में पहली बार चुनाव आयोग फेसबुक के माध्यम से सम्पर्क करेगा। ज्यादा से ज्यादा पात्र लोगों तक पहुंचने के लिए आयोग फेसबुक के साथ सहयोग कर मतदाता पंजीकरण रिमाइंडर भेजेगा। फेसबुक पर भारत के 180 मिलियन से अधिक यूजर हैं। इस रिमाइंडर में ‘रजिस्टर नाउ’ बटन होगा। रिमाइंडर को 13 भारतीय भाषाओं अंग्रेजी, हिंदी, गुजराती, तमिल, तेलुगु, मलयालम, कन्नड़, पंजाबी, बंगाली, उर्दू, असमिया, मराठी और उड़िया में भेजा जाएगा।

यह पहली बार है कि देश भर में फेसबुक का मतदाता पंजीकरण रिमाइंडर तैयार किया गया है। इससे पहले 2016 और 2017 में मुख्य निर्वाचन अधिकारियों ने अपने राज्य चुनावों के दौरान राज्य स्तर पर ऐसे प्रयास किए हैं। फेसबुक पर अभी रजिस्टर करें बटन पर क्लिक कर लोग राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल पर जायेंगे, जहां उन्हें पंजीकरण प्रक्रिया के बारे में जानकारी दी जाएगी।

इस अवसर पर मुख्य चुनाव आयुक्त डॉ. नसीम जैदी ने कहा, ‘मुझे यह घोषणा करने में प्रसन्नता हो रही है कि भारत के निर्वाचन आयोग ने पहली बार मतदाताओं पर ‘लेफ्ट ऑउट’ मतदाताओं को नामांकित करने के लिए विशेष अभियान शुरू किया है। ईसीआई के आदर्श वाक्य ‘कोई भी मतदाता पीछे नहीं छूटेगा’ को पूरा करने की दिशा में एक कदम है।

उन्होंने कहा, ‘मुझे यकीन है कि यह पहल चुनाव आयोग के नामांकन अभियान को मजबूत करेगी और भविष्य में मतदाताओं को चुनावी प्रक्रिया में भाग लेने और भारत के जिम्मेदार नागरिक बनने के लिए प्रोत्साहित करेगी।’

इस विषय में भारत व दक्षिण और मध्य एशिया के फेसबुक की सार्वजनिक नीति निदेशक अंकी दास ने कहा, ‘लोग सीखने, बात करने और महत्वपूर्ण मुद्दों से जुड़ने के लिए फेसबुक का उपयोग करते हैं। हम ऐसे कार्यकलापों का निर्माण करना चाहते हैं जो इस प्रकार के नागरिक प्रयासों का समर्थन करते हैं।