ट्रंप से भिड़ना सैली येट्स को पड़ा महंगा, किया बर्खास्त

वॉशिंगटन। दुनिया के सबसे ताकतवर देश के राष्ट्रपति से भिड़ना उनकी कार्यवाहक अटॉर्नी जनरल सैली येट्स को भारी पड़ गया है। जानकारी के मुताबिक येट्स ने सात मुस्लिम देशों के प्रवासियों की यूएस में एंट्री पर बैन लगाने वाले ट्रंप के आदेश का अदालत में बचाव करने से इंकार कर दिया था जिसके बाद उन्हें पद से हाथ धोना पड़ा।

येट्स की बर्खास्तगी की जानकारी व्हाउट हाउस के बयान के जरिए दी गई। इसमें बताया गया कि येट्स ने न्याय विभाग के साथ विश्वासघात किया है जिसकी सूचना उन्हें पत्र भेजकर दी गई। इसके साथ ही बयान में कहा गया कि उन्हें ओबामा प्रशासन के दौरान नियुक्त किया गया था और वह सीमा संबंधी मामलों और अवैध आव्रजन से जुड़े मामलों में काफी कमजोर हैं। ये समय देश की सुरक्षा को लेकर गंभीर होने का है। हमारे देश की सुरक्षा के लिए यह उचित और आवश्यक कदम है।

ऐसा कहा जा रहा है ट्रंप के गुस्से का शिकार सिर्फ सैली ही नहीं बनी बल्कि एक और अधिकारी बना है। बाताया जा रहा है कि ट्रंप ने व्हाइट हाउस ने प्रवासी और सीमा शुल्क प्रवर्तन विभाग के निदेशक डेनियल रेग्सडेल को भी हटा दिया है अब उनकी जगह थॉमस होमन लेंगे। हालांकि डेनियल के खिलाफ कार्यवाई की कोई वजह नहीं बताई गई है।

बता दें कि शुक्रवार को ट्रंप ने फरमान जारी करते हुए सीरिया, यमन, सोमालिया, इराक, ईरान, सूडान, लीबिया जैसे देशों के लोगों को वीजा देने से बैन कर दिया जिसके बाद से उन्हें कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है।