निर्देशक के काम में हस्तक्षेप नहीं करते श्रेयस तलपडे

मुंबई। अभिनेता श्रेयस तलपडे का कहना है कि एक अभिनेता के तौर वह निर्देशक के काम में हस्तक्षेप करना कभी नहीं पसंद करते। वह अपनी मराठी फिल्म ‘पोश्टर ब्वॉयज’ के हिंदी रीमेक से बतौर निर्देशक शुरुआत करने जा रहे हैं। श्रेयस ने बुधवार को अपनी आगामी फिल्म ‘वाह ताज’ के ट्रेलर लांच पर कहा, “मैं निर्देशक या निर्माता के काम में हस्तक्षेप नहीं करता। जब मैं बतौर अभिनेता काम करता हूं तो खुद को अभिनय तक ही सीमित रखने की कोशिश करता हूं। मुझे लगता है कि यदि मैं यही काम ठीक से कर पाया तो यह मेरी उपलब्धि होगी।”

shreyas-terpada

‘इकबाल’ के अभिनेता ने अपनी आगामाी फिल्म के बारे में कहा, “फिल्म की विषय-वस्तु बिल्कुल अलग है। निर्देशक अजीत सिन्हा जब मुझसे मिलने आए तो मैंने उनसे एक वाक्य में फिल्म के बारे में बताने को कहा। उन्होंने मुझे बताया कि यह एक किसान की कहानी है, जो उस जगह को, जहां ताजमहल बना है, अपनी जमीन बताता है। इसके बाद मेरी रुचि इसमें जगी और यही फिल्म का मुख्य आकर्षण है। फिल्म की कहानी अपील करने वाली है।”यह फिल्म भ्रष्ट व्यवस्था के बीच एक मराठी किसान के संघर्ष की कहानी है, जो 23 सितम्बर को रिलीज हो रही है। इसमें अभिनेत्री मंजरी फडनिस भी हैं।