लिंग परीक्षण के आरोप में डायग्नोस्टिक सेंटर का संचालक साथियों सहित गिरफ्तार

मेरठ। जिला मेरठ के एक डायग्नोस्टिक सेंटर में लिंग परीक्षण का मामला सामने आया है। प्राप्त हो रही जानकारियों के मुताबिक पानीपत का दलाल मेरठ में लिंग परीक्षण करा रहा था जिसकी सूचना मिलते ही प्रशासन ने डायग्नोस्टिक सेंटर पर टीम ने छापा मारते हुए दलाल को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया है।

मेरठ में आलम यह है कि शहर में जगह-जगह डायग्नोस्टिक सेंटर खुलेआम कानून को ताक पर रखकर लिंग जांच करते रहते है। मेरठ, यूपी ही नहीं बल्कि आस-पास के राज्यों के मरीजों को भी दलालों के माध्यम से लिंग जांच के लिए बुलाया जा रहा है। मगर हर बार दूसरे राज्यों से टीम आकर कातिलों के खिलाफ कार्यवाही करती हैऔर मेरठ प्रशासन खामोश बैठ जाता है। शुक्रवार को भी कुछ ऐसा ही हुआ पानीपत की टीम ने दलाल पर शिकंजा कसते हुए जागृति विहार में लिंग परीक्षण करने का सौदा कर रहे डायग्नोस्टिक सेंटर संचालक को साथी सहित दबोच लिया। आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है।

आपको बता दें पानीपत के स्वास्थ्य विभाग की टीम को मेरठ में डायग्नोस्टिक सेंटरों में दलालों के माध्यम से लिंग परीक्षण कराए जाने की सूचना मिली थी जिस पर कार्यवाही करते हुए पानीपत की स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जाल बिछाया और योजना के तहत अधिकारियों ने अपनी परिचित एक महिला को पानीपत निवासी दलाल जय भगवान के पास भेजा और पूरा ताना बाना बुन डायग्नोस्टिक सेंटर पर कार्यवाही कर डाली। इस कार्यवाही से मेरठ के सभी डायग्नोस्टिक सेंटरों पर खलबली मच गई है लेकिन अब देखने होगा की मेरठ प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग इस मामले मे आगे किया कार्यवाई करता है।

 -शानू भारती