आसमान छू रहे पेट्रोल-डीजल के दाम, जाने किसके कितने बढ़े रेट

नई दिल्ली। पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दाम रूकने का नाम नहीं ले रहे हैं। तेलों के दामों में लगातार इजाफा हो रहा है। देश में पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ते ही जा रहे हैं। जहां एक तरफ पेट्रोल के दाम आसमान छूते हुए 80 तक पहुंच गये हैं। वहीं डीजल भी पीछे नहीं है। डीजल का दाम 62 रूपये प्रति लीटर पहुंच गया है। पूरे देश में इनके रेट सबसे ज्यादा मुंबई में है। 2002 को बाद देश की राजधानी दिल्ली में भी डीजल की कीमत सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गए हैं। वहीं कोलकाता में इन्होंने 3 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इससे पहले अगस्त 2014 में डीजल की कीमतें देश के तीन बड़े महानगरों मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में सबसे ज्यादा थी।

बता दें कि 1 जुलाई से दिल्ली में पेट्रोल की कीमतों में 7 रुपये 74 प्रति लीटर की बढ़ोतरी हो चुकी है। वहीं डीजल के दाम में 5.74 रुपये प्रति लीटर का इजाफा हुआ है। दिल्ली में 2 अक्टूबर को पेट्रोल 70.83 रुपये और डीजल 59.07 रुपये की दर से बेचा गया। कोलकाता में पेट्रोल 73.57 रुपये, मुंबई में 79.94 रुपये और चेन्नई में 73.43 रुपये की दर से बिका। अगर डीजल की बात करें तो कोलकाता में 2 अक्टूबर को यह 61.73 रुपये, मुंबई में 62.75 रुपये और चेन्नई में 62.22 रुपये की दर थी। देश में डीजल की कीमतों के बढ़ने का जिम्मेदार अमेरिका में आए हेरीकेन नाम के तुफान को माना जा रहा है।
केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का कहना है कि अगले कुछ दिनों में ईंधन की कीमतों में कमी आएगी। लेकिन इसके बावजूद कीमतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं।

वहीं पेट्रोल और डीजल के मूल्य पिछले 20 सालों से बाजार से जुड़े हुए हैं। पेट्रोलियम उत्पादों पर टैक्स में कमी की संभावना के सवाल पर प्रधान ने कहा कि आधारभूत ढांचे के विकास और कल्याणकारी योजनाओं के मद्देनजर करों में कटौती नहीं की जाएगी। प्रधान का कहना है कि क्या आपको अच्छी सड़कें नहीं चाहिए? क्या आपको शुद्ध पेयजल नहीं चाहिए? क्या आपको अपने बच्चों के लिए अच्छी शिक्षा नहीं चाहिए? दोनों हाथ में लड्डू नहीं हो सकते।