सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद दर-दर भटक रहे मेडिकल स्टूडेंट्स

भोपाल। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद प्रदेश में सैकड़ों मेडिकल स्टूडेंट्स मामा शिवराज सिंह चौहान और उच्च शिक्षा मंत्री की उपेक्षा से आहत हैं। उन्हें उम्मीद थी कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद उन्हें राहत जरूर मिलेगी, लेकिन प्रदेश सरकार से उन्हें अब तक निराशा ही हाथ लगी है। इस मामले में इन स्टूडेंट्स के समर्थन में आई प्रदेश कांग्रेस ने प्रदेश की शिवराज सरकार को आड़े हाथों लिया है। प्रदेश सरकार का ध्यान इस ओर खींचने के लिए पीसीसी में 9 जनवरी को कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया।

medical student
medical student

बता दें कि कॉन्फ्रेंस में इन सैकड़ों मेडिकल स्टूडेंट्स के भविष्य से खिलवाड़ के प्रति प्रदेश के मुखिया और बच्चों के मामा कहे जाने वाले सीएम शिवराज सिंह चौहान से न्याय दिलाए जाने की गुहार की है। कांग्रेस ने राज्य सरकार और चिकित्सा माफियाओं की मिलीभगत से सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद इन स्टूडेंट्स के साथ अन्याय करने वाले दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।