अलविदा 2017- राम-रहीम के जेल जाने के बाद भड़की थी भयंकर हिंसा

पंचकुला। डेरा सच्ची सौदा प्रमुख राम रहीम को दो साधवियों के साथ दुष्कर्म करने के आरोप में दोषी करार दिए जाने पर हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, राजस्थान में हिंसा भड़क गई थी। जिसमें करीब 31 लोगों की मौत हो गई थी और 250 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। जिसके बाद हरियाणा सरकार ने पंचकुला के डीसीपी अशोक कुमार को धारा 144 ठीक तरह से लागू न करने पर निलंबित कर दिया था। सबसे ज्यादा खूनखराब और तोड़फोड़ पंचकुला में हुई। इसके बाद कोर्ट परिसर के पास में जमा हजारों डेरा समर्थक हिंसा पर उतारू हो गए। वहीं पंचकूला में हुई हिंसा पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दुख जताया था।

panchkula hinsa
panchkula hinsa

बता दें कि हिंसा और आगजनी के आगे पुलिस, अर्धसैनिक बलों के साथ सेना के जरिये शांति कायम करने की हरियाणा सरकार की कोशिश धरी की धरी रह गई थी। फैसले से गुस्साए डेरा समर्थकों ने सिरसा-पंचकूला में सैकड़ों वाहनों के अलावा इमारतों और रेलवे स्टेशनों को आग के हवाले कर दिया था। शहर में पुलिस ने उपद्रवियों को रोकने के लिए हवा में गोलियां चलाईं, आंसू गैस के गोले छोड़े और पानी की बौछार की, लेकिन हजारों प्रदर्शनकारियों के आगे सुरक्षाबलों को पीछे हटना पड़ा था। पंचकूला में निजी टीवी चैनलों की तीन ओबी वैन में भी तोड़फोड़ की गई थी और दो मीडियाकर्मी भी घायल हो गए थे।

वहीं हरियाणा और पंजाब की ओर जाने और वहां से आने वाली 485 ट्रेन प्रभावित हुईं हैं। 214 मेल व एक्सप्रेस ट्रेन ओर 235 पैसेंजर ट्रेन रद्द की गई है। 31 मेल व पैसेंजर आंशिक रूप से रद्द की गई। जबकि 4 पैसेंजर ट्रेन आंशिक रूप से रद्द की गई थी। भारी हिंसा को देखते हुए पंचकूला, कैथल और सिरसा में कर्फ्यू लगा दिया गया था। पंचकूला में एक हजार से ज्यादा डेरा समर्थकों को गिरफ्तार किया गया था। सेना ने कई इलाकों में फ्लैग मार्च कर जनता को सुरक्षा व्यवस्था का भरोसा दिलाया था। पंजाब-हरियाणा और चंडीगढ़ में 72 घंटों के लिए इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी। पंजाब के बठिंडा, मनसा और मुक्तसर में भी कर्फ्यू लगा हुआ था।

साथ ही पंचकुला हिंसा में पंजाब के दो रेलवे स्टेशनों में आग लगा दी थी। जिसमें मोटरसाइकिलों, कारों और इमारतों को भी आग के हवाले कर दिया था। इतना ही नहीं उस वक्त दिल्ली में ट्रेन में आगजनी की थी। वहीं यूपी में भी कई बसों में भी आग लगा दी थी। राजस्थान के श्रीगंगा नगर में भी बस को आग लगा दी गई थी। उस हिंसा के बाद गृह मंत्री ने उच्चस्तरीय बैठक करेंगे। जिसके बाद राम रहीम को दोषी करार पाया गया और उसे जेल भेज दिया गया।