सीएम हरीश रावत ने स्वास्थ्य मंत्री को किया तलब

देहरादून। डेंगू का कहर हर तरफ जारी है और हर रोज डेंगू से पीड़ित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। अगर सिर्फ देहरादून की बात करें तो आधिकारिक तौर पर वहां 578 मरीजों को डेंगू होने पुष्टि की जा चुकी है। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आज ट्विटर के जरिए स्वास्थ्य मंत्री सुरेंद्र नेगी को देहरादून के अस्पतालों में नेगेटिव ब्लड ग्रुप के प्लेट्लेट्स की कमी को दूर करने के लिए कहा है।

 

वैसे तो स्वास्थय मंत्रालय ने डेंगू से बचने के लिए कई सारी योजनाएं बनाई है लेकिन डेंगू के डंक के सामने उसकी सारी योजनाएं विफल साबित हो रही है। आज मुख्यमंत्री हरीश रावत के ट्विटर पर एक खत को साझा करते हुए लिखा, माननीय श्री एस एस नेगी जी, कृपया इस विषय पर उचित संज्ञान लेते हुए अतिशीघ्र कार्यवाही सुनिश्चित करें । आपको बता दें कि अंकित शर्मा नाम के एक व्यक्ति ने सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री हरीश रावत के लिए एक खुला खत लिखकर उनसे देहरादून के अस्पतालों में नेगेटिव ब्लड ग्रुप के प्लेट्लेट्स की कमी को दूर करने के लिए सहायता मांगी थी जिसके बाद रावत ने ये इस खत को साझा करते स्वास्थ्य मंत्री से इस मामने पर उचित कदम उठाने के लिए कहा था।

गौरतलब है कि देहरादून के पथरीबाग इलाके से शुरू हुआ डेंगू का प्रकोप अब शहर के कई हिस्सों में फैल चुका है। दून मेडिकल कॉलेज में जहां 16 मरीजों का इलाज चल रहा है, वहीं डेंगू के मरीज विभिन्न अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे हैं। अब तक डेंगू के तीन मरीजों की मौत हो चुकी है।