प्रदूषण को नियंत्रण में लाने के लिए दिल्ली को ई वाहनों की जरूरत- केजरीवाल

राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ता ही जा रहा है। ऐस में इंदिरा गांधी स्टेडियम में सब्सिडी रकम भुगतान के लिए ई-रिक्शा ड्राइवरों के कार्यक्रम को संबोधित मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने संबोधित किया। उन्होंने कहा है कि प्रदूषण के स्तर को देखते हुए दिल्ली सरकार बैटरी से चलने वाली बस और कार को चलाना चाहती है। उन्होंने कहा है कि डीजल और पेट्रोल के वाहनों की संख्या को घटाने की जरूरत है। उन्होंने कहा है कि दिल्ली में सबसे बड़ी समस्या प्रदूषण है और ई रिक्शा से प्रदूषण नहीं होता है। उन्होंने कहा है कि उम्मीद है कि आगे जाकर बसें और कारें भी बीजली और बैटरी से चलेंगी।

delhi, battery operated vehicles, reduce pollution, kejriwal, delhi cm
arvidn kejriwal

आपको बता दें कि सरकार द्वारा 6 हजार ई रिक्शा पर सब्सिडी देने का ऐलान किया था। सरकार द्वारा सब्सिडी के तौर पर पहले 15 हजार रुपए दिए जाते थे लेकिन अप्रैल महीने में इस राशि को बढ़ाकर 30 हजार रुपए कर दिया गया। ऐसे में योजना यह है कि कोई भी शख्स ई रिक्शा मालिक इस सब्सिडी के लिए आवेदन कर सकता है।

दूसरी तरफ आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कार्यकर्ताओं को भरोसा दिलाया है कि सिर्फ सात दिन के अंदर उनके वेतन में वृद्धि पर फैसला आ जाएगा। केजरीवाल ने सभी कार्यकर्ताओं को भरोसा दिलाया है कि उनकी मांगों और पहलुओं पर वह उपराज्यपाल से वार्तालाप करेंगे। वही उन्होंने कहा है कि दिल्ली में प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ रहा है। ऐसे में दिल्ली में आने वाले वक्त में डीजल और पेट्रोल से चलने के बजाए बीजली से चलने वाले वाहनों को प्रयोग होने चाहिए।