दीपा का शानदार प्रदर्शन अन्य खिलाड़ियों को प्रेरित करेगा : मणिक सरकार

अगरतला। त्रिपुरा के मुख्यमंत्री मणिक सरकार ने असम राइफल मैदान पर सोमवार को स्वतंत्रा दिवस के मौके पर कहा कि त्रिपुरा की जिम्नास्ट दीपा कर्माकर का रियो ओलम्पिक में किया गया शानदार प्रदर्शन अन्य खिलाड़ियों को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित करेगा और भारत में जिम्नास्टिक को बढ़ावा देगा। मणिक ने कहा, “दीपा का असाधारण प्रदर्शन दूसरे खिलाड़ियों को प्रेरणा देगा और भारतीय जिम्नास्टिक को आगे बढ़ाएगा।” मणिक ने ब्राजील की मेजबानी में खेले जा रहे 31वें ओलम्पिक खेलों में दीपा के प्रयास की सराहना की। दीपा को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, “हमें भरोसा है कि अगली बार दीपा ओलम्पिक खेलों में देश के लिए पदक लेकर आएंगी।”.

deepa kamkar

दीपा रविवार को हुए व्यक्तिगत वॉल्ट स्पर्धा के फाइनल में औसत 15.066 अंकों के साथ चौथे स्थान पर रही थीं और मात्र 0.15 सेकेंड के अंतर से कांस्य पदक चूक गईं। जाने माने संगीतकार सुबिमल भट्टाचार्जी ने दीपा के लिए एक गीत की रचना भी की है। सुबिमल ने कहा, “मैं तहेदिल से उन्हें भविष्य में सफलता पाने के लिए शुभकामनाएं देता हूं।” लेखक और खेल शोधकर्ता शेखर दत्ता ने कहा, “एक अजीब सी खामोश उदासी त्रिपुरा में अवतरित हुई है क्योंकि त्रिपुरा की जिम्नास्ट दीपा कर्माकर ने मिल्खा सिंह और पी. टी. ऊषा की सूची में जगह बना ली है जो, ओलम्पिक में एक कदम से पदक से चूक गए थे।” उन्होंने कहा, “मिल्खा सिंह (रोम-1960)और पी. टी. ऊषा (लॉस एंजेलिस-1984) ओलम्पिक में पदक के काफी करीब आकर चूक गए थे। मिल्खा 400 मीटर की स्पर्धा के में बीच में अचानक रहस्यमयी अंदाज में पीछे देखने लगे थे जबकि ऊषा ने 4 गुणा 100 मीटर रिले रेस में शुरुआत ही गलत कर दी थी।”