शादी के कार्ड के जरिये बेटी और पेड़ बचाने के लिए दिया अनोखा संदेश

बागपत। एक तरफ जहां लोग बेटियों को पेट में ही मार देते और हरे पेड़ों को भी काट रहे है जिन्हें बचाने के लिए अधिकारी और सरकार भी लोगों जागरूक करने के लिए जी जान से जुटे हुए है। वहीं, जनपद बागपत में एक शख्स ने भी बेटी बचाने बेटी पढ़ाने और पेड़ो को बचाने को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए अनोखा तरीका अपनाया है। जिसने अपनी बेटी की होने वाली शादी में न्योता देने के लिए शादी कार्ड अलग ही तरीके का छपवाया है जिसमे साफ़ साफ़ लिखा गया है कि बेटियों को बचाओ बेटियों को पढ़ाओ तो वही हरे पेड़ो को बचाने के लिए भी लिखा है और लोगों से अपील की है इस अंनोखी पहल को लेकर लोगों ने इस पिता की जमकर सरहाना की है।

दरअसल जनपद बागपत बिनोली थाना इलाके के धनौरा सिल्वरनगर गांव निवासी सतेंद राणा ने अपनी बेटी हिमानी की शादी बागपत के ही कस्बा के रहने वाले बिक्रम सिंह के बेटे अनुज के साथ तय किया है। 17 जनवरी को बड़ौत शहर के एक विवाह मंडप में उनकी शादी करने होने जा रही है लेकिन बेटी के पिता सतेन्द्र ने अपनी बेटी की शादी के माध्यम से लोगों को जागरूक करने के लिए सौचा और परिवार के सभी सदस्यों की सहमति से बेटी की शादी के लिए अनोखा कार्ड छपवाया गया और शादी के निमंत्रण कार्ड पर एक सन्देश लिखवाया जिससे की लोग जागरूक हो।

ये निमंत्रण कार्ड जनपद के अलावा अन्य जनपदों में अपनी रिश्तेदारियों और मिलने वालों को भिजवाए गए है सतेंद्र सिंह का कहना है कि शादी में सभी लोगों से भी अपील की जायेगी उनका कहना है कि आजकल लोग अपनी निजी आवश्यकताओ को पूरा करने के लिए पेड़ पौधों का अन्त कर रहे है और बेटियों के साथ भी भेदभाव किया जाता है वही लोगो ने भी उनके इस कदम को बहुत अच्छा बताया है और इससे लोग और भी ज्यादा जागरूक होंगे और आपको बता दे की पर्यावरण संरक्षण संवर्धन समेत सामाजिक मुद्दों पर आजकल लोग जागरूक होने भी लगे है यही नही कुछ लोगो ने इस मुहीम को आगे बढाने के लिए हरसंभव प्रयास भी शुरू किये हुए है एक माह पूर्व भी जनपद बागपत के वाजिदपुर गाँव में एक रिटायर्ड फौजी ने भी अपनी शादी में एक इसी तरह का कार्ड छपवाया था जिसमे लिखा था कि जो लोग शराब पीने और हर्ष फायरिंग करने के शौकीन है वो लोग शादी में न आये और शादी में आने बाद किसी ने भी ऐसा किया उसे शादी समारोह में शामिल नही किया जायेगा ।