सीओ ने मांगी मुलायम सिंह व अमिताभ ठाकुर से आवाज का नमूना देने की सहमति

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव द्वारा आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर को मोबाइल फोन से दी गयी कथित तौर पर दी गई धमकी के मामले में विवेचक सीओ हजरतगंज ने दोनों से अपनी आवाज़ का नमूना देने के लिए सहमति मांगी है।

विवेचक सीओ हजरतगंज अविनाश मिश्रा ने समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर को भेजे अपने पत्र में कहा है कि कोर्ट ने दोनों पक्ष के आवाज़ का नमूना लेने की अनुमति दे दी है। इसलिए विवेचना के सफल निस्तारण के लिए आवश्यक है कि वादी तथा प्रतिवादी की आवाज़ का नमूना प्राप्त कर वादी द्वारा उपलब्ध कराये गए रिकॉर्डिंग की आवाज़ से उसका मिलान कराया जाये। इसलिए वादी और प्रतिवादी आवाज का नमूना देने के लिए अपनी सहमति मांगी है।

डॉ. नूतन ठाकुर ने मंगलवार को बताया कि आवाज नमूना देने की सहमति के लिए सोमवार रात्रि दस बजे अमिताभ ठाकुर को विवेचक सीओ हजरतगंज का पत्र प्राप्त हुआ है। वहीं मुलायम सिंह यादव के आवास पर पुलिस मंगलवार को आवाज का नमूना लेने संबंधी अनुमति मांगने के लिए पहुंची।

गौरतलब है कि इस मामले में सीजेएम ने 20 अगस्त 2016 को इस मामले में पुलिस द्वारा दी गयी अंतिम रिपोर्ट ख़ारिज कर यह विवेचना क्षेत्राधिकारी हजरतगंज से कराये जाने और कॉम्पैक्ट डिस्क का विधि विज्ञान प्रयोगशाला में परीक्षण कराने के आदेश दिए थे।

मुलायम सिंह और अमिताभ को भेजे अपने पत्र में उन्होंने कहा है कि कोर्ट ने दोनो पक्ष के आवाज का नमूना लेने की अनुमति दे दी है। विवेचना के सफल निस्तारण के लिए आवश्यक है कि वादी तथा प्रतिवादी के आवाज का नमूना प्राप्त कर वादी द्वारा उपलब्ध कराए गए रिकार्डिंग की आवाज से उसका मिलान कराया जाए।