कांग्रेस की मांग, महाराजपुर सीट पर हो दोबारा मतदान

कानपुर। सपा-कांग्रेस के गठबंधन की गांठ बनी महाराजपुर सीट की कलह अभी भी खत्म नहीं हुई है। अब कांग्रेस का आरोप है कि सपा की बागी प्रत्याशी व भाजपा प्रत्याशी ने फर्जी लेटर बनाकर मतदाताओं को भ्रमित किया है जिसके चलते इस सीट पर दोबारा मतदान होना चाहिए।

कोतवाली क्षेत्र के बड़ा चौराहा पर कांग्रेसियों ने धरना देकर इस बात का विरोध प्रदर्शन किया कि महाराजपुर विधानसभा सीट में दोबारा मतदान होना चाहिये। आरोप लगाया गया कि सपा से बागी प्रत्याशी अरूणा तोमर व भाजपा प्रत्याशी सतीश महाना ने कूटरचित कर कांग्रेस प्रत्याशी राजाराम पाल के फर्जी लेटर पैड छपवाए, जिसमें कई ऐसी चीजों का जिक्र था जिससे मतदाता भ्रमित हो गया। यह पर्चे मतदान के दिन की पहली रात को क्षेत्र में बांटे गये। जिलाध्यक्ष हर प्रकाश अग्निहोत्री ने कहा कि भाजपा व सपा प्रत्याशी ने कांग्रेस प्रत्याशी को बदनाम करने की साजिश की जिसकी एफआईआर भी 19 फरवरी को दर्ज करा दी गई है।

पेशबंदी के लिए भाजपा प्रत्याशी सतीश महाना और अरुणा तोमर ने 23 फरवरी को राजाराम पाल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी। कांग्रेस की मांग है कि इस सीट पर दोबारा मतदान 11 मार्च के पहले हो जिससे पता चल जाएगा कि जनता किसके साथ खड़ी है। इस दौरान शहर कांग्रेस कमेटी ने डीएम कौशल राज शर्मा को मुख्य निर्वाचन अधिकारी को संबोधित ज्ञापन भी सौंपा और दोबारा मतदान करने की मांग की। कहा गया कि अगर दोबारा मतदान नहीं होता तो मजबूर होकर कांग्रेसी सड़क पर उतरकर आंदोलन करेंगे। इस दौरान, विकास अवस्थी, संजीव दरियाबादी, अम्बुज शुक्ला, प्रमोद जायसवाल आदि मौजूद रहे।