आपसी रंजिश के बाद अकाली और कांग्रेसी नेताओं की बीच ‘खूनी’कांड’

गुरदासपुर। अक्सर सुनने में आता है कि राजनीतिक रंजिश के तहत दो पार्टियों के नेता आपस में भिड़ गए। इसी कड़ी में एक और नाम जुड़ गया है। गिरदासपुर जिले के गांव बिजलीवाल में राजनीतिक रंजिश के तहत कांग्रेस और अकाली नेता आपस में भिड़ गए। अकाली और कांग्रेसी नेताओं की बीच हुई इस भिडंत में अकाली नेता बिक्रम सिंह की मौत हो गई है।

जानकारी के अनुसार अकाली नेता बिक्रम सिंह की कुछ कांग्रेसी नेताओं के साथ आपसी कई वक्त से रंजिश चल रही थी जिसको लेकर कांग्रेस नेता हरजीत सिंह, बलकार सिंह, बहादुर सिंह और गुरमीत कौर पत्नी बलकार सिंह का उनसे झगड़ा हो गया। देखते ही देखते झगड़ा इतना बढ़ गया की झगड़ा खूनी टकराव तक पहुंच गया। जिसमें अकाली नेता बिक्रम सिंह की जान चली गई।

सूचना मिलते ही आनन फानन में पुलिस मौके पर पहुंची और पुलिस ने मामला दर्ज किया। जिसके बाद कार्रवाई करते हुए पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई है।