कांग्रेस: केंद्र ने कश्मीर पर बातचीत के सभी दरवाजे बंद कर दिए

नई दिल्ली। सोमवार से शुरू होने जा रहे मानसून सत्र से पहले कांग्रेस ने विपक्षी दलों को अपने हित में करते हुए एकजुट करने की रणनीति बना ली है। इसी सिलसिले में कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया है कि केंद्र ने अब कश्मीर मुद्दे पर बातचीत के सभी दरवाजे बंद कर दिए हैं।

Congress, Centeral, closes, all doors,talks,Kashmir,
bjp and congress

हालांकि विपक्षी दलों को साधने के लिए रविवार को केंद्र की ओर अहम बैठकों का दौर जारी है। सुबह 11 बजे संसदीय कार्यमंत्री अनन्त कुमार ने बैठक बुलाई है। शाम 5 बजे एनडीए सांसदों की अहम बैठक है। शाम 7 बजे लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। लोकसभा अध्यक्ष की बैठक से पहले सुबह 11 बजे संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। कांग्रेस नेता और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, ‘मानसून सत्र में हम किसान, लिंचिंग, जम्मू-कश्मीर, विदेश नीति, गौरक्षक घटना जीएसटी महिला अत्याचार, पूर्वोत्तर में बाढ़, दार्जिलिंग आंदोलन मुद्दे पर चर्चा करेंगे।
इससे पहले गुरुवार-शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर 10 जनपथ पर रणनीतिक बैठक बुलाई। बैठक में विपक्ष के मुद्दों पर चर्चा की गई। बैठक के बाद लोकसभा में विपक्ष के नेता आगामी मॉनसून सत्र के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, ‘हमारे पास किसान, लिंचिंग, जम्मू-कश्मीर, विदेश नीति, जीएसटी, नोटबंदी समेत कई मुद्दे हैं।’वहीं नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि महबूबा मुफ्ती को चीन के बारे में जानकारी कहां से मिली| हो सकता है राजनाथ सिंह जी ने मुलाकात में बताया हो। चीन के दखल के बारे में मुझे जानकारी नहीं है| सीएम महबूबा मुफ्ती के पास ज्यादा जानकारी होगी लेकिन चीन के साथ युद्ध में पड़ना बुद्धिमानी की बात नहीं है| इसलिए हमें इसे बातचीत से ही मसला सुलझाना होगा।