सर्वे में पिछड़ी कांग्रेस, छवि सुधारने के लिए प्रशांत किशोर का लेगी सहारा

देहरादून। 5 राज्यों में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान हो गया है। तारीखों का ऐलान होते ही कई टीवी चैनलों ने चुनावी सर्वेक्षण जारी करने शुरू कर दिए है। प्रदेश में 15 फरवरी को विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। सर्वेक्षण में कांग्रेस पिछड़ती हुई नजर आ रही है जिससे पार्टी के नेता परेशान हो गए है। उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की ओर से नियुक्त चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के बीच एक बैठक भी हो चुकी है। अब पार्टी के नेता चाहते है कि प्रशांत किशोर प्रदेश की स्थितियों के बारे में जानकारी इकट्ठा करके नई रणनीति बनाये जिससे पार्टी की छवि में सुधार हो सकें।

प्रशांत किशोर से नई रणनीति के बारे में जानकारी देते हुए किशोर उपाध्याय ने बताया कि कांग्रेस चुनावों के लिए पूरी तरह से तैयार है। किशोर के साथ समन्वय करने के लिए प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय जोत सिंह के नेतृत्व में प्रदेश पार्टी सचिव को कार्यभार सौंपेगे।

समाचार चैनलों की ओर से कराए गए चुनावी सर्वेक्षणों में कांग्रेस को पिछड़ते और मुख्य विपक्षी बीजेपी को सरकार बनाने की स्थिति में दिखाए जाने से पार्टी नेता चिंता में पड़ गए हैं। प्रशांत किशोर की सेवाएं लेने को इस स्थिति को बदलने के लिए लिया जा रहा है। उपाध्याय ने बताया कि प्रदेश की 70 विधानसभा सीटों में से 63 पर प्रत्याशियों के नाम पर सहमति बन चुकी है लेकिन इनके नामों की घोषणा दिल्ली में बैठक के बाद की जाएगी।