कांग्रेस ने लगाया पार्षदों पर होटलों में करोड़ों उड़ाने का आरोप

इंदौर। नगर निगम द्वारा पिछले साल की तरह इस बार भी 94 करोड़ का घाटे का बजट पेश किया है। इससे स्पष्ट है कि निगम घाटे में चल रहा है। इसके बावजूद महंगी, बड़ी होटलों में बैठक आयोजित कर लाखों रुपये फूंका जा रहा है जो सरासर गलत है। यहां लाखों रुपये खर्च किए जा रहे है लेकिन गांधी हॉल के जीर्णोद्धार के लिए कोई राशि खर्चा नहीं की जा रही है। बजट में भी निगम द्वारा जीर्णोद्धार के लिए पांच करोड़ रुपये रखे गए हैं।

बता दें कि नगर निगम नेता प्रतिपक्ष फौजिया शेख अलीम ने बताया कि कांग्रेस पार्षद दल द्वारा हमेशा से बड़ी होटलों में हो रहे परिषद सम्मेलन और बैठकों का विरोध किया है। लेकिन इसके बावजूद महापौर और सभापति इस ओर ध्यान नहीं दे रहे है। नगर निगम अपनी स्वयं की ऐतिहासिक धरोहर गांधी हॉल को भूलकर बड़ी होटल में बैठक कर लाखों रुपये की चपत लगा रहे है।

साथ ही बजट पुस्तिका बेग, साउण्ड व्यवस्था, टेंट व्यवस्था, विद्युत व्यय पर लाखों खर्चा करने के साथ ही ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर का लाखों रुपये किराया व भोजन व्यवस्था पर लाखों खर्चा भी बजट सम्मेलन के नाम पर किए जा रहे है। जो कि जनता के पैसे का दुरुपयोग है। श्रीमती अलीम ने बताया कि दिसम्बर 16 में भी स्मार्ट सिटी के संबंध में आयोजित सम्मेलनों पर भी लाखों रुपया खर्चा किया गया है जो कि जनता के पैसों का दुरुपयोग है।