गुजरात के गहरे समंदर से भारतीय तटरक्षक दल ने पकड़ी 3500 करोड़ की ड्रग

मुंबई। गुजरात के गहरे समंदर में भारतीय तटरक्षक दल ने एक व्यापारी जहाज को अपने कब्जे में लिया है जिसमें से उन्हें 1500 किलो हेरोइन बरामद हुई है। तटरक्षक बल ने जो ड्रग पकड़ी है उसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 3500 करोड़ बताई जा रही है। ड्रग की ये अब तक की सबसे बड़ी बरामदगी बताई जा रही है। पानी के जहाज पर सवार सभी 8 नाविकों को हिरासत में ले लिया गया है। पकड़े गए सभी आरोपी भारतीय हैं जबकि पकड़ी गई व्यापारी जहाज एम वी हेनरी पनामा में रजिस्टर्ड है। भारतीय तटरक्षक दल के पश्चिमी कमान के प्रवक्ता कमांडेंट एस द्विवेदी ने बताया कि पानी का जहाज हेनरी गुजरात के अलंग ब्रेकिंग बंदरगाह पर लाया जा रहा था और उसपर 8 भारतीय नाविक सवार थे।

coast guard, drug, consignment, far, indian ocean, gujrat
drug

बता दें कि कबाड़ के रूप में लाए जा रहे जहाज से ड्रग तस्करी का भी ये पहला मामला पकड़ा गया है। 3 दिन पहले खुफिया सूत्रों से जहाज में कुछ संदिग्ध सामान होने की जानकारी मिली थी। उसके बाद से गहरे समंदर में ऑपरेशन जारी किया गया था। उसपर नजर रखने से लेकर उसे पकड़ने तक की कार्रवाई तुरंत शुरू की गई। तटरक्षक दल का जहाज समुद्र पावक तुरंत रवाना कर दिया गया। पास पहुचने पर तटरक्षक दल के कमांडो डींगी पर सवार हो संदिग्ध जहाज पर गए और उसे अपने कब्जे में लिया। तलाशी में जहाज पर 1500 किलो की हिरोइन अलग अलग पैकेटों में छुपाकर रखी मिली। जहाज को तुरंत कब्जे में लेकर उसे 30 जुलाई को गुजरात में पोरबंदर बंदरगाह पर लाया गया है और सभी 8 नाविकों को गिरफ़्तार कर लिया गया है। नौसेना, तटरक्षक दल, आई बी, कस्टम और पुलिस सभी मामले की जांच में जुटे हैं।