कोयला घोटाला: पूर्व कोयला सचिव एसची गुप्ता समेत सात को जमानत

नई दिल्ली। दिल्ली की स्पेशल कोर्ट ने छत्तीसगढ़ के एक कोल ब्लाक के आवंटन के मामले में पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को जमानत दे दी है । कोर्ट ने छत्तीसगढ़ के फतेहपुर कोयला ब्लॉक को एसकेएस इस्पात एंड पावर लिमिटेड को आवंटित किए जाने में अनियमितता के आरोप से जुड़े एक मामले में जमानत दी है। मामले की अगली सुनवाई 23 मार्च को होगी ।

कोर्ट ने गुप्ता के अलावा सात अन्य आरोपियों को भी जमानत दी है । कोर्ट ने इस मामले में वरिष्ठ लोक सेवक के एस क्रोफा, कंपनी के दो निदेशकों अनिल गुप्ता और दीपक गुप्ता तथा तीन अन्य अमित सिंह, राकेश सिंह और जगन नाथ पांडा को एक-एक लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दी । गुप्ता कोयला घोटाले से जुड़े सात मामलों में आरोपी हैं ।

इस मामले में सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि इन आरोपियों ने जमीन और कंपनी के नेटवर्थ के संबंध में जांच समिति के सामने तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया जिसके बाद कोर्ट ने आरोपियों और कंपनी को तलब किया था। सीबीआई ने दावा किया था कि माइनिंग कांट्रैक्ट पाने के लिए आरोपी जांच समिति के साथ धोखा करने के आपराधिक षडयंत्र में शामिल थे।