सीएम योगी ने संभाली कमान, बोले कुछ लोगों की सुधारनी है आदतें

लखनऊ। यूपी में सीएम योगी आदित्यनाथ के काम करने के अंदाज से ज्यादातर लोग उनका समर्थन कर रहे हैं। अपने कामों को लेकर जितनी जल्दी वो रिएकेशन ले रहे हैं उससे यूपी के लोग उनसे बहुत खुश हैं। योगी का मानना है कि यूपी में कुछ व्यवस्थाएं ऐसी हैं जिन्हें सुधारने की जरूरत है और इसमें सबसे जरूरी है कानूनी व्यवस्था जिसकी कमान अब खुद योगी आदित्यनाथ ने संभाल ली है। उनका कहना है कि कानून व्यवस्था से खिलवाड़ की इजाजत किसी को नहीं है। चेतावनी देते हुए कहा योगी ने कहा कि जिन लोगों की आदतें अभी तक नहीं सुधरी है अब उनकी आदते सुधारने के लिए सरकार बड़े स्तर पर प्रशासनिक फेरबदल करेगी। योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर में मीडिया से बात करते हुए ये बात कही।

बता दें कि यूपी की कानून व्यवस्था को लेकर योगी का कहना है कि वैसे तो प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था पहले की तुलना में बहुत सुधरी है लेकिन अभी थोड़ी बहुत और सुधारने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसी के साथ भेदभाव नहीं होगा लेकिन कानून से खिलवाड़ की इजाजत भी किसी को नहीं होगी। पहले सरकार की कार्यप्रणाली के कारण दंगे होते थे, अपराध बढ़ता था। अपराधियों को संरक्षण प्राप्त होता था। अब ऐसा नहीं है। अब कहीं पर कोई ऐसा करने का करने की कोशिश कर रहा है तो सख्ती से उसे रोका जा रहा है।

उन्होंने कहा कि पुलिस का आचरण ब्रिटिश शासन जैसा नहीं होना चाहिए लेकिन अगर कोई संवेदनशीलता का गलत फायदा उठाने की कोशिश करेगा तो ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। ऐसा करने से सबसे ज्यादा पीड़ा कांशीराम की आत्मा को होगी। बसपा में उठे विवाद पर सीएम ने कहा कि यह एक पार्टी का विवाद है। मुझे लगता है कि इस विवाद से सबसे ज्यादा पीड़ा मान्यवर कांशीराम की आत्मा को हो रही होगी। जिस उद्देश्य से उन्होंने बहुजन समाज का अभियान शुरू किया था वह अभियान अपने रास्ते से भटक गया है।

साथ ही सीएम ने कहा कि सरकार शहीदों और उनके परिजनों को सम्मान देगी। सैनिक की शहादत किसी भी समाज के लिए सर्वोच्च सम्मान हो सकता है। देवरिया के शहीद प्रेम सागर के परिवारीजनों को 26 लाख रुपये की सहायता दी गई। उनका स्मारक बनाने के साथ शहीद के नाम पर राजकीय बालिका इंटर कॉलेज खोला जाएगा।