हम जैसे-जैसे बढ़ रहे हैं, विरोधी की भाषा बदल रही : अखिलेश

महाराजगंज। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रविवार को कहा कि हम जैसे जैसे आगे बढ़ रहे हैं, विरोधियों की भाषा बदल रही है। उन्होंने कहा कि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कब गठबंधन कर ले, किसी को नहीं पता चलेगा। अब पत्थर वाली सरकार विकास की बात करती है। ये दो युवाओं का गठबंधन, जो प्रदेश के साथ ही देश की राजनीति बदलेंगे। घबराए हुए लोग कहते हैं दो कुनबों का गठबंधन है।

सपा अध्यक्ष ने यहां नौतनवा में अपनी चुनावी सभा में कहा कि नौतनवां के लिए जो वादें किए हैं, उन्हें लिखकर रख लें। सरकार बनाने के बाद काम पूरे करेंगे। उन्होंने कहा कि नौतनवां में ढ़ेरों विकास कार्य किए हैं। साइकिल आगे बढ़ रही है, नौतनवां के लोग उसे और आगे बढ़ा दें। अखिलेश ने कहा कि हम अगली सरकार में नेपाल से आने वाली पांचों नदियों की व्यवस्था करेंगे, ताकि बाढ़ के समय ज्यादा नुकसान न हो। उन्होंने कहा कि किसानों-गरीबों के इलाज में समाजवादी सरकार पूरी मदद देगी। वहीं, उन्होंने केन्द्र सरकार पर हमलावर होते हुए कहा कि भाजपा वाले एम्स की बात करते हैं, लेकिन यदि हमारी सरकार ने एम्स के लिए जमीन नहीं दी होती तो गोरखपुर में एम्स का सपना कभी पूरा नहीं होता। एम्स के लिए समाजवादी लोगों ने जमीन तो दे दी, पर वह काम तक शुरू नहीं कर पाए।

अखिलेश ने कहा कि हम लैपटॉप और स्मार्टफोन की बात कर रहे हैं। आने वाले समय में शहरों के साथ गांवों में भी 24 घण्टे बिजली देंगे। जनता खुद देखे कि किस सरकार ने सबसे ज्यादा बिजली दी है। हमारी सरकार ने 1600 करोड़ का किसानों का कर्ज माफ किया, सिंचाईं मुफ्त की। उन्होंने जनता से कहा कि वह सभी दलों का आकंलन करे कि कौन काम बेहतर कर रहा है।

सपा अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी तरफ से अभी कोई जवाब नहीं मिला है। प्रधानमंत्री गंगा मइया की कसम खाएं कि काशी में 24 घंटे बिजली नहीं दे रहे। उन्होंने कहा कि वहीं हम आने वाले समय में 01 लाख पुलिसकर्मियों की भर्ती करेंगे। इसके अलावा 10वीं, 12वीं, पॉलिटेक्निक, आईटीआई के बच्चों को प्रशिक्षण देंगे। वहीं आने वाले समय में गरीब स्कूली बच्चों को एक लीटर घी, एक किलो मिल्क पॉउडर भी दिया जायेगा।
अखिलेश ने कहा कि हमारी सरकार ने प्रदेश के एक लाख 40 हजार शिक्षामित्रों को समायोजित किया। आने वाले समय में समाजवादी पेंशन योजना के तहत 1000 रुपए दिये जायेंगे। गरीबों के राशन में धोखा न हो, इसका पूरा इंतजाम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमने घोषणापत्र की बातों को पूरा करने का काम किया है। लोगों को समाजवादियों के काम पर भरोसा है।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री जी, आप काम की बात कब करेंगे। जनता अभी तक नहीं आपके मन की बात समझ नहीं पायी है। अखिलेश ने कहा कि रेडियो पर मन की बात हो रही है और अब तो टीवी पर भी मन की बात होने लगी है। उन्होंने एक बार फिर कहा कि नोट या रुपया काला सफेद नहीं होता, लेन-देन काला सफेद होता है।

अखिलेश ने प्रधानमंत्री को चुनौती देते हुए कहा कि पीएम खुद तय कर लें, किस जगह नोटबंदी पर बहस करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा के वादों के 15 लाख छोड़िए, 15000 भी किसी को नहीं मिले। उन्होंने कहा कि अच्छे दिन वालों ने सपना दिखाया, लाइन में लगाकर सब पैसा जमा करा लिया। जनता चाहती है कि समाजवादियों को एक बार फिर से मौका मिले।