मुलायम की आवाज के नमुने पर सीजेएम ने फैसले को रखा सुरक्षित

लखनऊ। पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव द्वारा आईपीएस अमिताभ ठाकुर को मोबाइल फोन से दी गई कथित धमकी के मामले में विवेचक सीओ अविनाश मिश्रा बुधवार को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) के सामने पेश हुए। मिश्रा ने सीजेएम छवि अस्थाना से मुलायम सिंह और अमिताभ ठाकुर की आवाज़ का नमूना लेने की अनुमति मांगी। सीजेएम ने इस पर अपना निर्णय सुरक्षित रख लिया है।

बता दें कि डॉ. नूतन ठाकुर ने बुधवार को बताया कि सीजेएम छवि अस्थाना ने मुलायम सिंह यादव और अमिताभ ठाकुर की आवाज़ का नमूना लेने के मामले में अपना निर्णय सुरक्षित रख लिया है। इससे पूर्व सीजेएम लखनऊ संध्या श्रीवास्तव के आदेशों का अनुपालन करते हुए विवेचक ने आवाज का नमूना कॉम्पैक्ट डिस्क जांच हेतु सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (सीएफएसएल) चंडीगढ़ भेजा था, जिसने मामले की जांच हेतु बातचीत में प्रयुक्त हुए मूल रिकॉर्डिंग डिवाइस को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे।

गौरतलब है कि सीजेएम ने 20 अगस्त 2016 को इस मामले में पुलिस द्वारा दी गयी अंतिम रिपोर्ट ख़ारिज कर यह विवेचना क्षेत्राधिकारी हजरतगंज से कराये जाने और कॉम्पैक्ट डिस्क का विधि विज्ञान प्रयोगशाला में परीक्षण कराने के आदेश दिए थे।