चिट फंड घोटाले में भाजपा नेता से पूछताछ

भुवनेश्वर| केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने शनिवार को बीजू जनता दल के सांसद रवींद्र जेना से उनके अरबों रुपये के चिट फंड घोटाले के सिलसिले में फिर से पूछताछ की।जेना से सीशोर ग्रुप से कथित संबंध को लेकर पूछताछ की गई थी। वह समूह प्रदेश के कथित रूप से हजारों निवेशकों के पैसे को हड़प चुका है।

rabindra-jena

जेना से इससे पहले जनवरी में पूछताछ की गई थी।बालासोर से लोकसभा के सदस्य यहां सीबीआई के समक्ष पेश हुए। उन्हें 14 नवंबर को पेश होने के लिए कहा गया था लेकिन उन्होंने कुछ दस्तावेजों के साथ अपने वकील को भेज दिया था। बाद में जांच एजेंसी ने उन्हें एक और समन भेजकर व्यक्तिगत रूप से पेश होने को कहा।

यहां सीबीआई के कार्यालय से बाहर निकलने के बाद जेना ने संवाददाताओं से कहा, सीशोर समूह ने हमलोगों से कुछ पैसे लिए थे। उनमें से उनलोगों ने कुछ लौटाए थे जबकि हम लोगों को उससे अभी और बाकी रकम लेनी है। सीबीआई ने मुझसे इन्हीं लेन-देन के बारे में सवाल किए। मैंने सभी सवालों के जवाब दिए और मैंने सभी जरूरी जानकारियां दे दीं। जेना की अध्यक्षता वाली सुप्रतीक कंपनी समूह ने सीशोर को वर्ष 2010 में 18 करोड़ रुपये कर्ज दिए थे। सीशोर ने अधिकांश रुपये लौटा दिए लेकिन अभी 1.86 करोड़ रुपये उसके पास हैं।