चीन के राष्ट्रपति ने अपनी सेना को कहा हर तरह के युद्ध के लिए रहे तैयार

बीजिंग। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी सेना में शामिल हुई पीएलए की नई टुकड़ी को हर तरह के युद्ध के लिए तैयार रहने के लिए कहा है। चीन की इस नई टुकड़ी में 84 लार्ज मिलिटरी यूनिट के जवान शामिल हैं। राष्ट्रपति ने अपनी सेना को सलाह दी है की वे इलेक्ट्रॉनिक, सूचना और स्पेस युद्ध जैसे नई प्रकार की लड़ाई की क्षमता के लिए भी खुद का विकास करें।

बता दें की राष्ट्रपति ने ये अपील ऐसे समय में की है जब चीन ने अरुणाचल के कुछ हिस्सों के नामों की अधिकारिक घोषणा की है। भारत के जरिए दलाई लामा की अरुणाचलस यात्रा के लिए चीन ने नाराजगी जताई थी। चीन ने इस बात पर कहा था की दोनों देशें के आपसी रिश्तों में इसका असर होगा। इसके अलावा अमेरिका ने दक्षिण कोरिया में थाई मिसाइलें तैनात की है। कहा जा रहा है की अमेरिका के इस कदम के बाद दोनों देशों के बीच परेशानी की स्थिति बन गई है।

थाड मिसाइल से चीन की निगरानी करेगा अमेरिका

अमेरिका ने उत्तर कोरिया और चीन से निपटने के लिए दक्षिण कोरिया में अपने टर्मिनल हाई एल्टीट्यूड एरिया डीफेंस (थाड) पर इंटरसेप्टर मिसाइल तैनात की है। इस मिसाइल के ताकतवर रडार से चीन के पूरे इलाके पर नजर रखी जा सकती है। बताया जा रहा है की थाड चीन और कोरिया में तैयार हो रहे हथियारों पर भी निगरानी रख सकता है।

दक्षिण चीन सागर है विवाद का कारण

जापान, कोरिया और वियतनाम के साथ-साथ कई देशों के दावे वाले इलाके पर चीन लगातार अपना हक जता रहा है। हाल ही में चीन ने इस इलाके पर अपना हक जताने के लिए एक बनावटी टापू तैयार कर अपनी नौसेना को वहां तैनात कर दिया है। इसको लेकर अमेरिका कई बार अपना विरोध दर्ज किया है लेकिन चीन झुकने को तैयार ही नहीं है।