स्कूल प्रबंधन ने बच्चों के भविष्य को पहनाई हथकड़ीयां, परिक्षा छोड़ स्कूल ड्रेस में ईंटों को ढ़ोते दिखे बच्चें

हरदोई। सूबे में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने प्रत्येक जिले में नोडल अधिकारी व प्रभारी मंत्रियों को नियुक्त किया गया है। ताकि समय-समय पर निरीक्षण कर कर कमियों को दूर कर सकें और जनता को होने वाली समस्याओं का निदान कर सकें। लेकिन इन लोगों के आने से इनकी आव भगत में जुड़े अधिकारी सब कुछ बेहतर दिखाने के लिए किस हद तक गिर जाएंगे इसका किसी को अनुमान भी नहीं है। आइए आज हम आपको एक नजारा आपको दिखाते हैं।

childrens, future, handcuffs, worn by, School management, drop-down, exams, bricks, Carry show, school dress,
children’s future handcuffs worn by School management

बता दें जिले के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल औचक निरीक्षण करने आने वाले थे, जो कि इस वक्त जिले के नोडल अधिकारी भी बनाए गए हैं। जिम्मेदारों को खबर लग गई, कि सहगल साहब सांसद की गोद लिए गांव का इंस्पेक्शन करेंगे तो फिर क्या था, हर विभाग अपने को बेहतर बनाने में लग गया और इसी चमक में शिक्षा विभाग भी आ गया क्योंकि उस गांव के स्कूल का गेट और बाउंड्रीवाल टूटी हुई थी, इससे पहले कि साहब निरीक्षण करते खामी पाते और कर्रवाई करते कि ठीक उससे पहले ही जिम्मेदारों ने गेट और बाउंड्रीवाल बनाने का सामान स्कूल के बाहर लगवा दिया गया। स्कूल के अंदर बच्चे गणित की परीक्षा दे रहे थे, मजदूर थे नहीं, लिहाजा बच्चों की परीक्षाएं छुड़वाकर उन्हें ईंटे ढ़ोने में लगा दिया गया। जिसका वीडियो अब सोशल साईट पर भी खूब वायरल हो रहा है और शिक्षा विभाग की थू-थू भी जोरों-शोरों से हो रही है, जिसके बाद बेसिक शिक्षा अधिकारी ने कर्रवाई की बात की तो, लेकिन लेबर जैसी बात उन्हें कहीं भी नजर नहीं आई।

वीड़ियो देखने के लिए दूसरे पेज पर जाएं:-

Pages: 1 2