इंटरनेट के इस गेम ने ली बच्चे की जान, भारत में है पहला मामला

मुंबई। मां बाप हमेशा अपने बच्चों को इंटरनेट की दुनिया से दूर रखना चाहते हैं। लेकिन आज के बच्चो के लिए इंटरनेट जरूरत बन गया है। जिससे वो खुद को दूर ही नहीं कर पाते और उनमें वो एक से एक गेम खेलकर खुद को हर गेम में एक्सपर्ट बनाने चाहते हैं। आज हम आपको ऐसा ही एक मामला बताने जा रहे हैं जहां इंटरनेट के एक गेम ने 14 साल के लड़के की जान ले ली। मामला अंधेरी इस्ट का है जहां एक 14 साल के लड़के ने छलांग लगा दी। बच्चे को ऑनलाइन सुसाइड गेम का शिकार बताया जा रहा है। बता दें कि इस गेम की वजह से रूस में 130 लोगों की जान गई है। भारत में यो पहला मामला सामने आया है जब इस खूनी गेम की वजह से किसी बच्चे की जान चली गई।

child, play, blue whale game, suicide, case, india, Russia
blue whale game suicide

बता दें कि आत्महत्या करने से पहले मनप्रीत सिंह नाम के इस बच्चे ने अपने दोस्तों को कथित तौर पर बताया था कि वह ब्लू वेल गेम खेल रहा है और इस वजह से वह सोमवार को स्कूल नहीं आ पाएगा। पुलिस के मुताबिक बच्चे ने कोई सुसाइड नोट भी नहीं छोडा है। उसके माता-पिता का कहना है कि बच्चे ने ऐसे कोई संकेत नहीं दिए जिससे लगे कि वह डिप्रेशन का शिकार है। मीडिया के मुताबिक ब्लू ह्वेल गेम को एक सोशल मीडिया ग्रुप चला रहा है। इस गेम में खिलाडी को 50 दिन तक टास्क दिए जाते हैं जिनमें से आखिरी टास्क आत्महत्या करने का होता। मनप्रीत के आसपास रहने वाले लोग उसके सुसाइड के पीछे गेम को ही वजह बता रहे हैं।