राजकुमार की फिल्म हीर रांझा का रिमिक बनाने पर विचार कर रहे चेतन आनंद के पोते चेतन

मुंबई। पुरानी फिल्मों के रीमेक के दौर में एक और क्लासिक फिल्म का नाम जुड़ने जा रहा है। 70 के दशक में राजकुमार और प्रिया राजवंश की जोड़ी को लेकर बनी म्यूजिकल लव स्टोरी हीर रांझा को अब रिमेक करने की योजना पर काम शुरू किया गया है। इस फिल्म का निर्देशन चेतन आनंद ने किया था, जो देव आनंद के सबसे बड़े भाई थे।


बता दें कि अब मिली खबर के अनुसार, चेतन आनंद के पौत्र, जिनका नाम भी चेतन है ने इस फिल्म की रीमेक की योजना पर काम शुरु करते हुए नए सिरे से इसकी पटकथा लिखने का काम शुरु किया है। उनका कहना है कि पिछले 6 महीनों से वे पटकथा लिखने का काम कर रहे हैं और एक बार पटकथा तैयार होने के बाद कास्टिंग पर विचार किया जाएगा। 70 के दशक में बनी हीर रांझा के गाने सुपर हिट रहे थे। मिले न तुम तो हम घबराएं, मिलो तो आंख चुराए, हमें क्या हो गया है आज भी सुपर हिट माना जाता है।

वहीं इसी फिल्म में मोहम्मद रफी का गाना- ये दुनिया, ये महफिल मेरे काम की नहीं भी सुपर हिट माना जाता है। इन गानों के अलावा इस फिल्म के नाम एक और अनोखी बात जुड़ी हुई है कि शबाना आजमी के पिता और शायर कैफी आजमी द्वारा रचित इस फिल्म की पटकथा में हर संवाद काव्य शैली में रखने का प्रयोग हुआ था, जिसे काफी पसंद किया गया था। 90 के दशक में फिल्मकार हरमेश मल्होत्रा ने अनिल कपूर और श्रीदेवी की जोड़ी के साथ इस फिल्म को रीमेक किया था, लेकिन बाक्स आफिस पर वो फिल्म सुपर फ्लाप रही थी।