गाजीपुर में सपा और बसपा पर बरसे केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा

गाजीपुर।  केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा ने रविवार को अपने संसदीय क्षेत्र गाजीपुर में भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा सम्मेलन में मंच से अपनी सभी विपक्षी पार्टियों पर जमकर बरसे।इसी क्रम में सत्ताधारी समाजवादी पार्टी पर कहा कि केन्द्र सरकार की संस्थाएं NHI या कोई अन्य संस्था सड़क बनवाती है तो लगभग साढ़े सत्रह करोड़ के आसपास किलोमीटर का खर्च आता है।

सपा में लूट और पैसे का झगड़ा

जबकि यूपी सरकार साढ़े तैतीस करोड़ प्रति किमी का खर्च की है। उन्होंने कहा कि इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि चाचा भतीजे के बीच किस बात का झगड़ा है, सपा परिवार में ये भ्रष्टाचार और लूट के पैसे को लेकर झगड़ा है। नोटबंदी में बैंकों और एटीएम पर लग रही लम्बी कतारों पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि अभी तो बैंकों और एटीएमों पर कम लोग खड़े है, चुनाव में ये लाईन इतनी लम्बी लगेगी कि सपा-बसपा और कांग्रेस का पता ही नहीं चलेगा।

manoj-sinha-gazipur

उन्होंने यह भी कहा कि देश की जनता 70 सालों से अभ्यस्त थी लाईन लगाने के लिए, लोग राशन की दुकानों और राशन कार्ड बनवाने के लिए लाईन में लगते थे। कोई भी सरकारी काम हो लोग लाईन में लगते थे, लेकिन पहली बार ये लाईन देश हित में देश की दिशा बदलने और भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए लग रही है। वहीं उन्होंने व्यापारियों को दावे और जिम्मेदारी के साथ समझाते हुए कहा कि आप खुलकर डिजीटल या आनलाईन भुगतान करें सरकार अधिकारियों को निर्देश दे चुकी है कि 8 नवम्बर से पहले की सभी चीजों पर कोई कार्रवाई नहीं करेगी, हम सबको मुख्य धारा में लाना चाहते हैं।

manoj-sinha-gazipur-2

वहीं मनोज सिन्हा ने संसद न चलने देने पर विपक्ष के आरोपों पर कहा कि देश की जनता जानती है कि किन लोगों ने संसद को नहीं चलने दिया, उत्तर प्रदेश या देश में जहाँ भी चुनाव होगा देश की जनता उनको जवाब देगी।

यह पूछने पर कि आपने मंच से विरोधियों पर भ्रष्टाचार के कई आरोप लगाए हैं ये कौन से भ्रष्टाचार हैं, तो जवाब में मनोज सिन्हा ने कहा कि इन पाँच सालों में इस प्रदेश सरकार के भ्रष्टाचार के अनगिनत किस्से हैं इन्हें एक मिनट में बताना मुश्किल है लेकिन ये सच है कि उत्तर प्रदेश ये जानता है कि समाजवादी परिवार के बीच जो अन्तर कलह है वो भ्रष्टाचार और लूट से कमाए धन को ही लेकर है।

आलोक त्रिपाठी, संवाददाता