अखिलेश ने मुलायम को साइकिल के कैरियर पर भी नहीं बैठायाः नायडू

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में चुनावी बिगुल बजते ही सभी पार्टियों के नेताओं ने एक-दूसरे पर कटाक्ष करना तेज कर दिया है। पहले चरण के मतदान के लिए राजधानी में भाजपा के लिए चुनाव प्रचार करने आए केन्द्रीय शहरी विकास व सूचना प्रसारण मंत्री एम. वेकैंया नायडू ने समाजवादी पार्टी (सपा) और कांग्रेस के गठबंधन को अवसरवादी अनैतिक गठबंधन बताया है। उन्होंने कहा कि बीते 5-6 महीने से सपा कुनबे में मंत्रियों की बर्खास्तगी, समझौता, वापसी, फिर बर्खास्तगी यह ड्रामे की तरह पहले मैलोडी, फिर कॉमेडी के बाद अब ट्रेजडी की ओर बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव ने गठबंधन कर लिया लेकिन अपने पिता जी को साइकिल के कैरियर पर भी नहीं बैठाया और साइकिल का हैडिंल कांग्रेस के हाथ में थमा दिया।

केन्द्रीय मंत्री नायडू यहां पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में मीडिया से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उप्र. से बीमारू राज का टैग हटाने के लिए परिवार का पोषण करने वाले अवसरवादी गठबंधन को पूरी तरह दरकिनार करना जरूरी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रिफार्म-परफार्म और ट्रांसफार्म के साथ जनता यूपी को आगे बढ़ाये।

केंद्र सरकार ने कराया सर्वे

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सबके लिए घर योजना के तहत केंद्र सरकार ने सर्वे करवाया था। जिसमें 30 लाख 7 हजार मकानों की उ.प्र. को आवश्यकता थी। जब केन्द्र सरकार ने यूपी सरकार से मकानों की आवश्यकता के बारे में पूछा तो उन्होंने 17 लाख 59 हजार 762 मकानों की आवश्यकता बतायी। मैंने उन्हें तीन रिमाइन्डर स्वयं भेजे, 10 रिमाइन्डर मेरे विभाग से भेजे गये, कैबिनेट सेक्ट्ररी ने वीडियो कांफ्रेसिंग से यूपी के चीफ सेकेट्ररी से बात की उसके बावजूद भी अखिलेश सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए प्रस्ताव नहीं भेजे। मैंने कानपुर में मेट्रो के शिलान्यास के समय मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से स्वयं इस विषय में बात की।

गिनवाई केंद्र सरकार की उपलब्धियां

नायडू ने कहा कि आंध्र और तेलागंना जैसे छोटे प्रदेशों ने भी 1 लाख 93 हजार, और 80 हजार मकानों के लिए प्रस्ताव दिये। लेकिन अखिलेश सरकार प्रस्ताव देने की भी जहमत नहीं उठा सकी। उन्होंने कहा कि 12 से 18 लाख की कीमत के मकानों के ऋण में भारत सरकार ने 3 फीसदी ब्याज की छूट दी है, 9 से 12 लाख लागत के मकानों के कर्ज में 4 प्रतिशत की छूट दी है। मकान का क्षेत्रफल 30 वर्गमीटर से बढ़ाकर 60 वर्गमीटर किया गया है। इसके साथ ही आयकर की छूट और एफडीआई लागू की गयी ताकि हर आदमी के पास अपना घर हो सके।

उन्होंने यह भी कहा है कि पीएम मोदी के नेतृत्व में देश तेजी से आगे बढ़ रहा है। देश को आगे बढ़ने के लिए यूपी को आगे बढ़ाना अति आवश्यक है। अखिलेश सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी नहीं चाहती कि प्रदेश का विकास हो और जनता खुशहाल हो।