पिकनीक है मनाना तो इस बार मसूरी जाना

देहरादून। मसूरी, नाम तो सुना होगा….। मसूरी उत्तराखंड प्रांत का एक शहर है। घूमने-फरिने के लिे ये भारत की खूबसूरत जगहों में से एक है। सैलानियों को मसूरी बहुत भाता है। लोग अक्सर शादी के बाद या दोस्तों के साथ मसूरी घूमने आते हैं। यह पर्वतीय पर्यटन स्थल हिमालय पर्वतमाला के शिवालिक श्रेणी में पड़ता है, जिसे पर्वतों की रानी भी कहा जाता है।

 

मसूरी की दूसरी सबसे उंची चोटी पर रोप वे से जाने का मजा ही कुछ और है। रोप वे की लंबाई केवल 400 मीटर है, लेकिन यहां तक पहुंचने का रास्ता मंजिल से भी ज्यादा खूबसूरत है। मसूरी में कुछ खास जगह है जहां आप घूम सकते हैं।

म्युनिसिपल गार्डन-

आजादी से पहले इस गार्डन को बोटेनिकल गार्डन कहते थे।सन्‌ 1842 के आस-पास उन्होंने इस क्षेत्र को सुंदर उद्यान में बदल दिया था। बाद में इसकी देखभाल कंपनी प्रशासन के देखरेख में होने लगा था। इसलिए इसे कंपनी गार्डन या म्युनिसिपल गार्डन कहा जाने लगा।

तिब्बती मंदिर और चाइल्डर्स लॉज-
तिब्बती मंदिर मसूरी की जान भी है और पहचान भी। इस मंदिर के पीछे ड्रम लगे हुए हैं जिसकी ये मान्यता है कि इसकी परिक्रमा करने से मनोकामना पूरी होती है। वहीं चाइल्डर्स लॉज मसूरी की दूसरी सबसे ऊंची चोटी है। यहां तक घोड़े पर या पैदल चलकर भी पहुंचा जा सकता है।

कैमल बैंक रोड- मसूरी झील
ये कुलरी बाजार से शुरु होता है और लाइब्रेरी बाजार जाकर समाप्त हो जाता है। मसूरी पब्लिक स्कूल से कैमल रॉक जीते जागते ऊंट जैसी लगती है। वहीं मसूरी झील नया पिकनिक स्पॉट है और आकर्षण का नया केंद्र है।