सीबीआई ने 225 करोड़ के एयर इंडिया सॉफ्टवेयर खरीद घोटाले में दर्ज किया केस

नई दिल्ली। सीबीआई ने 2011 में 225 करोड़ रुपये के सॉफ्टवेयर की खरीद में कथित अनियमितताओं के सिलसिले में सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया, जर्मन फर्म सैप एजी और आईबीएम के अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। सीबीआई ने शुक्रवार को बताया कि सॉफ्टवेयर की खरीद में प्रथमदृष्टया प्रक्रियात्मक अनियमितताएं पाई गईं और केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) की सिफारिश पर मामला दर्ज किया गया।

सीबीआई ने आपराधिक साजिश और धोखाधड़ी से संबंधित भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की है। मामले में एयर इंडिया के मुख्य सतर्कता अधिकारी की प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि राष्ट्रीय विमानन कंपनी ने उचित निविदा प्रक्रिया का पालन किए बिना सैप एजी के एंटरप्राइज रिसोर्स प्लानिंग (ईआरपी) सॉफ्टवेयर प्रणाली का चयन किया था। अधिकारी ने अपनी जांच रिपोर्ट आयोग को सौपी थी जिसमें इस खरीद में अनेक अनियमितताओं का जिक्र था। सीवीसी की सिफारिश पर सीबीआई ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी।