आर्थिक तंगी से परेशान किसान के परिवार के साथ की आत्महत्या

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में एक दर्दनाक घटना सामने आई है जिसमें एक किसान ने आर्थिक तंगी और बैंक के कर्ज से तंग आकर अपनी पत्नी, दो बेटियों और खुद को गोली मार ली जिसमें दोनों बेटियों और किसान की मौके पर मौत हो गई जबकि पत्नी की हालत गंभीर बनी हुई है। पत्नी को इलाज के लिए जिला चिकित्सालय भर्ती कराया गया है ।
दरसअल पूरा मामला रतनपुरी थाना क्षेत्र के मथेड़ी गांव का है जहां एक 40 साल के किसान जयवीर ने उस समय एक देशी तमंचे से पहले अपनी दो बेटियों 13 वर्षीय प्रियांशी, और 15 वर्षीय श्वेता को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया जब पूरा परिवार दोपहर घर में बैठा खाना खा रहा था।

बेटियो की जान लेने के बाद किसान जयवीर अपनी पत्नी मीनू और खुद को भी गोली मार ली। दोनों बेटियों और किसान जयवीर की मौके पर मौत हो गई। जबकि उसकी पत्नी की हालत गंभीर बनी हुई है। ग्रामीण और मृतक किसान के भाई ब्रह्मपाल का कहना है कि किसान पर कई बैंकों का लाखों रुपए का कर्ज था और उसके अलावा उसने सूदखोरों से भी कर्ज लिया हुआ था लगातार कर्ज चुकाने का दबाव किसान पर बढ़ता जा रहा था और एक तरफ पूरा परिवार आर्थिक तंगी की मार झेल रहा था। ऊपर से 2 जवान बेटी जिनकी शादी करने की भी चिंता किसान को सता रही थी किसान ने इस बाबत कई बार जिला प्रशासन से भी मदद की गुहार लगाई लेकिन कोई मदद ना मिले और अंत में किसान ने ऐसा कदम उठाया

इस पूरे मामले को लेकर जिला प्रशासन चुप्पी साधे हुए हैं अब इस बाबत जब मुज़फ्फरनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार और जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह से पूछा गया कि किसान ने कई बार मदद की गुहार लगाई तो मदद क्यों नहीं की गई तो इस सवाल पर दोनों अधिकारियों ने जांच कर कार्रवाई करने की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ लिया पुलिस ने तीनों शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

 गुल्फाम अहमद, संवाददाता