18 फरवरी से शुरु होगा राष्ट्रीय रेस वॉकिंग चैंपियनशिपको, 200 एथलिट लेंगे हिस्सा

नई दिल्ली। मैक्स बूपा हेल्थ इंश्योरेंस भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) के साथ मिलकर देश में ‘वॉकिंग रेस’ को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मैक्स बूपा राष्ट्रीय रेस वॉकिंग चैंपियनशिप का आयोजन कर रहा है। चैंपियनशिप में 200 से अधिक राष्ट्रीय रेस वॉकिंग चैम्पियन हिस्सा लेंगे। इनमें रियो ओलंपिक 2016 में शामिल राष्ट्रीय रेस वॉकिंग चैम्पियन मनीष सिंह रावत, खुशबीर कौर और गुरमीत सिंह के नाम प्रमुख हैं। चैम्पियनशिप की इनामी राशि चार लाख रुपये रखी गई है। जो चैम्पियनशिप जीतने वाले खिलाड़ी के प्रशिक्षण के इस्तेमाल में लायी जाएगी। यह चैम्पियनशिप जापान में होने वाले एशियन रेस वॉकिंग चैम्पियनशिप के लिए चयन ट्रायल है।

मैक्स बूपा राष्ट्रीय रेस वॉकिंग चैंपियनशिप 18 फरवरी को 20 किलोमीटर और 50 किलोमीटर वर्ग में शुरू होगा। इसके अलावा 19 फरवरी को स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता को लेकर 10 किमी ‘वॉकिंग रेस’ के साथ चैंपियनशिप का समापन होगा।

दिल्ली में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान इस बात की जानकारी देते हुए मैक्स बूपा के एमडी और सीईओ आशीष मेहरोत्रा ने कहा कि भारत के एथलेटिक फेडरेशन के साथ मिलकर ‘वॉकिंग रेस’ चैम्पियनशिप का आयोजन करना हमारे लिए एक अद्भुत क्षण है। हम पिछले पांच वर्षों से ‘स्वास्थ्य मैक्स बूपा वॉक’ के तहत ‘वॉकिंग रेस’ को भारत में बढ़ावा देने का कार्य कर रहे हैं। हमारा लक्ष्य वॉक को अपने दैनिक जीवन में शामिल करने के लिए अधिक से अधिक भारतीयों को प्रोत्साहित करना है।