बेंगलुरू टी-20 में 75 रन से जीतकर भारत ने किया सीरीज पर कब्जा

बेंगलुरू। बेंगलुरू के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए तीसरे और आखिरी टी-20 मुकाबले में भारत ने इंग्लैंड को 75 रनों से हरा दिया है। भारत की इस जीत के हीरो रहे लेग स्पिनर यजुवेंद्र चहल, जिसने चार ओवर में 25 देकर छह विकेट लिया। शानदार प्रदर्शन के लिए चहल को मैन ऑफ द मैच चुना गया। वहीं, मैन ऑफ द सीरीज भी यजुवेंद्र चहल ही रहे।

भारत द्वारा दिए गए 203 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लिश टीम की शुरुआत ठीक नहीं रही और पारी के दूसरे ओवर में ही सैम बिलिंग बिना खाते खोले आउट हो गए। बिलिंग को नेहरा ने आउट किया। दूसरे विकेट के लिए जेसन रॉय और जो रूट के बीच 47 रन की साझेदारी हुई। इस साझेदारी को अमित मिश्रा ने तोड़ा। जब मिश्रा ने जेसन रॉय को 32 के स्कोर पर धोनी के हाथों कैच करवाया। इसके बाद तीसरे विकेट के लिए कप्तान मॉर्गन और रूट के बीच 64 रन की पार्टनरशिप हुई। मेहमान टीम की स्थिति मजबूत देखते हुए कोहली ने फिर से चहल का रूख किया और 14वें ओवर में चहल ने मॉर्गन (40 रन) और रुट (42 रन) को अपना शिकार बनाया। अगले ओवर में फिर बुमराह ने पहली ही गेंद पर जॉस बटलर को आउट कर दिया। इसके बाद लगातार इंग्लिश बल्लेबाजों के विकेट गिरते रहे और पूरी टीम 127 रन के योग पर सिमट गई। भारत के लिए यजुवेंद्र चहल ने छह विकेट और बुमराह ने तीन विकेट झटके। जबकि अमित मिश्रा के खाते में एक विकेट गया।

इससे पहले, मैच में टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरूआत बेहद खराब रही और कप्तान​ विराट कोहली मात्र 2 रन बनाकर रन आउट हो गए। फिर के.एल. राहुल ने सुरेश रैना के साथ इंग्लैंड के गेंदबाजों की धुनाई करते हुए भारत का स्कोर 65 रन तक पहुंचाया। केएल राहुल को बेन स्टोक्स ने 22 रन के व्यक्ति स्कोर पर क्लीन बोल्ड की भारत को दूसरा झटका दिया। हालांकि, बेन स्टोक्स की जिस गेंद पर राहुल आउट हुए वह रिप्ले में देखने से पता चला कि नो बॉल थी।

रैना इसके बाद 45 गेंदों पर 63 रनों की धुआंधार पारी खेलकर प्लंकेट की गेंद पर मॉर्गन को कैच थमा बैठे। इसके साथ भारत को तीसरा झटका लगा। एमएस धोनी 56 रन बनाकर पैवेलियन लौटे। उन्होंने 32 गेंदों में 5 चौकों और 2 छक्कों की मदद से टी-20 में पहली फिफ्टी बनाई। धोनी और रैना के बीच 55 रन की साझेदारी हुई। युवराज सिंह 10 गेंदों में 27 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने 3 छक्के और एक चौका जड़ा। युवी-ओनी के बीच 57 रन की साझेदारी हुई। रिषभ पंत 5 रन बनाकर नाबाद रहे। इंग्लैंड की तरफ से क्रिस जॉर्डन, टाइमल मिल्स, बेन स्टोक्स और लियाम प्लेंकेट ने एक एक विकेट लिए।