9 जनवरी को आयेगी बसपा के प्रत्याशियों की सूची

देहरादून। उत्तराखण्ड विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान होते ही सभी पार्टियों ने कमर कस ली है। कांग्रेस बीजेपी पर आरोप लगा रही है तो बीजेपी पर बस बयानबाजी का दौर जारी है किसी भी पार्टी ने उम्मीदवारों की सूची जारी नहीं की है। जनता में इसको लेकर कयासबाजी का दौर चल रहा है। उत्तराखण्ड की तीसरी सबसे बड़ी पार्टी बसपा 9 जनवरी को अपने 55 प्रत्याशियों की घोषण करेगी। बसपा प्रदेश की सभी सीटों पर लगभग अपने प्रत्याशी तय कर चुकी है। वहीं बीजेपी और कांग्रेस अभी भी प्रत्याशी के नाम को लेकर विचार-विमर्श कर रही है।

गौरतलब है कि साल 2002 के पहले विधानसभा चुनाव में बसपा ने कुल 7 सीटों पर जीत हासिल की तो अगले विधानसभा चुनाव 2007 में उसके निर्वाचित विधायकों का आंकड़ा 8 तक जा पहुंचा। लेकिन बाद में बसपा ग्राफ गिरता गया और साल 2012 के विधानसभा चुनाव में बसपा केवल हरिद्वार जिले के 3 सीटों पर ही जीत दर्ज कर पाई फिर भी बसपा को लेकर सियासी दल चौकन्ने हैं। यदि बसपा कोई उलट फेर करती है तो कांग्रेस और भाजपा के सियासत पर सीधा असर होगा।

ये भी पढ़ेंः बसपा ने जारी की 100 उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट

अभी तक प्रदेश के 20 सीटों पर बसपा का खुद के मजबूती का दावा करती रही है। जिनमें हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर जिले की विधानसभा सीटों पर पकड़ अच्छी रही है। बता दें कि बसपा यूपी में पहले ही तीन लिस्ट जारी कर चुकी है।