भारत के इस मंदिर में प्रसाद के तौर पर मिलता है ब्राउनी और बर्गर

चैन्नई। जैसे जैसे वक्त बदलता जा रहा है वैसे-वैसे इस बदलते वक्त का असर सब पर पड़ रहा है और अब तो इसका असर मंदिरों पर भी दिखने लगा है। यही कारण है की अब चैन्नई के एक मंदिर में अब प्रसाद में बर्गर और ब्राउनी का इस्तमाल किया जाता है। साथ ही यंहा पर मिलने वाले इस प्रसाद पर इसके बनने की तारीख, एक्सपायरी डेट और बाकी सभी चीजें लिखी होती है। मंदिर के प्रसाद के रुप में यह बिलकुल नया है। इतना ही नहीं यहां प्रसाद लेने के लिए वैंडिंग मशीन भी लगाई गई है।

मंदिर में किए गए इस बदलाव को एक हर्बल ओंकोलॉजिस्ट के श्री श्रीधर की सलाह पर किया गया है। श्रीधर ने ही मंदिर को सलाह दी थी मंदिर में इस तरह का बदलाव किया जाए जिसमें मंदिर की किचन में बनने वाली कोई ऐसी भी चीज हो जो पूरी तरह से सुरक्षित हो और प्रसाद के तौर पर इस्तेमाल की जा सकती हो। साथ ही उन्होने यह भी कहा की यह परंपरा प्रसाद से बिलकुल अलग है।

कुछ समय पहले यंहा प्रसाद के रुप में केक भी भक्तों को दिया गया था। इसके अलावा मंदिर ने प्रसाद के लिए डोर टू डोर सर्विस भी शुरु कर दी है। इस बदलाव को लोग भी काफी पंसद कर रहे है। यह बदलाव सबसे ज्यादा उन लोगों को पसंद आ रहा है जो अपनी बढ़ती उम्र के कारण मंदिर नहीं जा पाते लेकिन अब घर पर ही प्रसाद ग्रहण कर लेते है।