गरीबों से घूसखोरी का बड़ा खुलासा, 500 से 700 रुपये तक लिया घूस

फैजाबाद।जिले में गरीबो से जमकर घूसखोरी की गयी है।  श्रम विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने साइकिल बाटने के नाम पर गरीब श्रमिको की जेब पर डाका डाला है। हमारे कैमरे पर घूसखोरी का पर्दाफाश हुआ है। इसका खुलासा तब हुआ जब श्रम विभाग में पंजीकृत एक हज़ार श्रमिको को पुलिस लाइन में मुफ्त साइकिल बांटी जा रही थी। हमने लाभार्थियों से पूछा तो ज़्यादातर लोगो ने खुलासा किया कि विभाग में उनसे 500 से लेकर 700 रुपये वसूले गये।

faizabad-1

हालांकि श्रम विभाग के अधिकारी की माने तो अखिलेश सरकार की इस योजना के तहत कोई भी पैसा नही लिया जाता। योजना का लाभ लेने के लिए श्रमिको को मात्र 100 रुपये देकर पंजीकरण कराना होता है। इस बारे में खुद उप श्रम आयुक्त राजेश कुमार भी कह रहे हैं।  अखिलेश सरकार श्रमिको को मुफ्त साइकिल दे रही है। लेकिन कान्ति नाम की एक महिला श्रमिक ने कहा है कि विभाग ने उससे साइकिल के लिए 700 रूपये लिए हैं।

faizabad-3

ये हाल केवल कान्ति का ही नही बल्कि अनारा और शीला नाम की अन्य महिला श्रमिको का भी है। जिनसे विकास भवन में 500 रुपये ले लिए गए। यही नही घूस लेने वाले ने कहा कि पैसा ऊपर तक पहुचाना पड़ता है।यूपी सरकार की योजनाओं को दीमक की तरह चाट रहे भ्रष्ट अधिकारी व कर्मचारियों ने महिला श्रमिको को ही नही ठगा बल्कि पुरुषों से भी घूसखोरी हुयी। लेकिन गरीब मज़दूर लोगो ने 700 रुपये घूस देकर भी नयी साइकिल पा लेना बेहतर डील समझा और घूस देकर साइकिल वाले बन गए।

faizabad-2
हालांकि जब इस मामले पर हमने श्रम विभाग के आला अधिकारी से जवाब मांगा तो उन्होने जांच करके कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है। और अपनी बेचारगी बताते हुए सफाई दी है कि उन्हें कार्यभार ग्रहण किये महज़ चंद दिन ही हुए है।

rp_sanjeev-azad_faizabadसंजीव आजाद, संवाददाता