उत्तराखंड निकाय चुनाव में भाजपा लाऐगी नए चेहरे

देहरादून। शहरी निकाय चुनावों में उत्तराखंड में भी भारतीय जनता पार्टी नए चेहरों पर दांव खेलेगी। इसके लिए भाजपा ने तैयारी भी शुरू कर दी गई है। सभी को मौका देने की रणनीति भाजपा ने पार्टी के कर्मठ कार्यकर्ताओं को निकाय चुनाव में चेहरा बनाना कर उतारने की योजना बना ली है। इसके साथ ही निकायों में आरक्षण को भी नए सिरे से निर्धारित किया जा रहा है। इस मामले में पार्टी नेतृत्व इस मामले में अभी खुलकर नहीं बोल रहा है।

राज्य में 2018 की शुरुआत में निकाय चुनाव प्रस्तावित हैं। इसके लिए पार्टी और सरकार दोनों के स्तर पर तैयारियां शुरु कर दी गई हैं। सूत्रों से मिली खबर इस से पता चला है की इस बार भारतीय जनता पार्टी निकाय चुनावों में पाषर्दों से लेकर निकाय अध्यक्षों और महापौर के पदों पर नए चेहरों को उतारेगी।
दिल्ली एमसीडी के चुनावों में भी भाजपा ने इसी तरह का दाव खेला था और फिर परिणाम शानदार रहे थे। ऐसा माना जा रहा है कि भाजपा ने उत्तराखंड में भी इसी रणनीति पर काम करने का निर्णय ले लिया है। इस बार भाजपा सरकार निकाय चुनावो में युवा और कार्यकर्ताओं के विश्वास को बनाए रखेगी।

इस बार सरकार की कोशिश यह है कि सिर्फ निकायों की तस्वीर ही नहीं , बल्कि नए चेहरे और नई ऊर्जा लोगों के बीच होंगी।
शहरी विकास, निर्वाचन एवं पुनर्गठन मंत्री व राज्य सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक ने कहा की दिल्ली में यह रणनीति सफल हुई है। नए निगमों को लेकर उन्होंने बताया कि प्रक्रिया चल रही है, जल्द तस्वीरें भी साफ हो जाऐंगी ।