बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरू, शाह ने बोला विपक्ष पर हमला

नई दिल्ली। सोमवार को बीजेपी राष्ट्रकार्यकारिणी बैठक का दूसरा दिन है। बैठक में बीजेपी के सभी नेताओं समेत पार्षद मौजूद रहे हैं। बैठक के दूसरे दिन पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने बीजेपी की उपलब्धियों के बारे में बताया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा कार्यकारिणी बैठक में कही गई बातों को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने मीडिया को बताया।

bjp national executive meeting

उन्होंने कहा कि बीजेपी ने आतंकवाद, गंदगी और जातिवाद को भारत से खत्म करने का संकल्प लिया है। पीयूष गोयल ने बताया कि बैठक में अमित शाह ने डोकलाम मुद्दे पर भी केंद्र सरकार की तारीफ की है। बैठक में अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि बीजेपी ने न्यू इंडिया का संकल्प लिया है। उन्होंने कहा कि 1-17 अक्टूबर तक वह केरल में पदयात्रा करने वाले हैं। उन्होंने कहा कि हिंसा के बीच में कमल खिलेगा। अमित शाह ने कार्यकारिणी बैठक में केरल और पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा की निंदा भी की है। अमित शाह ने कहा कि बीजेपी सरकार आने के बाद देश में अर्थव्यवस्था तेजी से सुधर रही है। और अब देश के गरीब तब्के के लोग अपने आप को सुरक्षित महसूस करते हैं।

कांग्रेस पर वार

दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में हो रही बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर जमकर निशाना बोला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सिर्फ जातिवाद की राजनीति करना जानती है। उन्होंने कहा कि विदेश में राहुल गांधी ने जाकर देश के बारे में गलत बयान दिया है। राहुल गांधी ने विदेश में जाकर देश में वंशवाद अनिवार्य बताया है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी भारत की गरिमा और उपलब्धियों का नकार रहे हैं।

राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने राहुल गांधी के बयान की निंदा की है। उन्होंने कहा कि राजनीति ऐसी होनी चाहिए जो देश में सभी व्यक्तियों का जीवन सुधार सके और देश में सभी व्यक्तियों को सर्वोच्च पदों पर जाने का अधिकार है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सिर्फ वंशवाद करना ही जानती है। अमित शाह ने साफ तौर पर कहा कि कांग्रेस के राज में देश के अंदर भ्रष्टाचार चरम पर था। लेकिन बीजेपी की सरकार आने के बाद देश के अंदर से भ्रष्टाचार खत्म हो चुका है और आज बीजेपी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है। अमित शाह ने कहा कि तीन साल के कार्यकाल में बीजेपी पर कोई भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा है।