दो बहनों ने लगाया भाजपा नेताओं पर प्रताड़ित करने का आरोप

मेरठ। समाज के गरीब बे सहारा बच्चों में शिक्षा की अलख जगा कर अपना जीवन न्यौछावर करने वाली मेरठ की दो बहनों ने भाजपा नेता के गुर्गों और पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि इलाके के गुंडों ने उनके घर के नीचे बनी दुकान को कब्ज़ाने जाने के लिए उनके ऊपर न सिर्फ हमला किया बल्कि उनके घर में घुसकर छेड़छाड़ की दोनों बहनों को बचाने आए पड़ोसियों को मदद करना महंगा पड़ा सत्ता के रसूख के चलते उन्होंने दोनों बहनों को और उनके मददगार पड़ोसियों के खिलाफ लूट और डकैती का मुकदमा दर्ज कराया है।

मेरठ के गंगानगर की यह कहानी दिल को झकझोर कर रख देने वाली है यह कहानी उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की कानून व्यवस्था की रखवाली पुलिस की कार्यशैली पर एक काला कलंक है। यहां इस घर में छोटे बच्चों को पढ़ा कर उन्हें काबिल बनाने वाली दो सगी बहनों को पुलिस और BJP नेता के गुर्गों की प्रतारणा झेलनी पड़ी है।

दरअसल इन बहनों के इस मकान में ग्राउंड फ्लोर पर कुछ दुकाने बनी हुई है जिसे में से एक दुकान इन्होने अंशुल जैन को किराये पर दे रखी है आरोप है कि दुकानों को अंशुल जैन इलाके के गुंडे साथ मिलकर क़ब्ज़ाना चाहता हैं दोनों बहनों ने इन गुंडों का विरोध किया तो गुंडों ने घर में घुसकर उनके साथ छेड़छाड़ की उन्हें मारा पीटा उनकी चीख सुनकर जब पड़ोसी उनकी मदद के लिए आगे आए तो गुंडों ने उनके साथ भी मारपीट की पीड़िता पुलिस के पास तक पहुंचती उससे पहले ही गुरुओं ने बीजेपी नेता की मदद से दोनों बहनों को और उनके मददगार पड़ोसियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया।