भाजपा नेता बोले राम मंदिर निर्माण के लिए यह समय अनुकूल

लखनऊ। पूर्व केंद्रीय मंत्री और बिहार से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राज्यसभा सदस्य डॉ. सी.पी. ठाकुर ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए परिस्थतियां अनुकूल हैं और इस दिशा में आगे बढ़ा जा सकता है।

Ram Mandir

उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि हाशिम अंसारी के बेटे इकबाल की भी इच्छा है कि अयोध्या में आपसी सहमति से राम मंदिर का निर्माण हो। ठाकुर ने शुक्रवार को आईएएनएस से विशेष बातचीत के दौरान कहा कि गुरुवार को वह बाबरी मस्जिद के मुद्दई मरहूम हाशिम अंसारी के चालीसवें में शामिल होने उनके घर गए थे।

ठाकुर ने इस दौरान हाशिम अंसारी के बेटे इकबाल अंसारी से काफी देर तक बातचीत की। उन्होंने बताया, “हाशिम अंसारी जब जीवित थे तब भी वे चाहते थे कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होना चाहिए। अब इसकी जिम्मेदारी उनके बेटे इकबाल पर है। उन्होंने भी अपनी सहमति दी है कि अयोध्या में राम मंदिर बनना चाहिए।”

डॉ़ ठाकुर ने कहा, “भले ही हाशिम अंसारी अब इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन उनके मिशन को पूरा करने के लिए हम सभी प्रयास करेंगे। अयोध्या में भगवान राम का मंदिर बने और मुस्लिम समाज के लोगों की भावना का भी सम्मान हो, इसे ध्यान में रखकर प्रयास किए जाएंगे, ताकि देश में हिंदू-मुस्लिम एकता बनी रहे।”

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, “इकबाल के अलावा अयोध्या में प्रमुख संतों से भी हमने मुलाकात की है। उनका भी यही कहना है कि आपसी सहमति से राम मंदिर का निर्माण हो। इस समस्या का अब स्थायी समाधान होना चाहिए।”

ठाकुर ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर नहीं बनेगा तो क्या मक्का मदीना में बनेगा? राम मंदिर का निर्माण होगा और इसके लिए यही अनुकूल समय है। इकबाल अंसारी और हिंदू संतों से हुई बातचीत को दिल्ली में शीर्ष लोगों से अवगत कराया जाएगा, जो विभिन्न कानूनी पहलुओं पर विचार कर इस मुद्दे के समाधान का रास्ता तलाशेंगे।

ठाकुर ने कहा कि हाशिम अंसारी के पुत्र इकबाल अंसारी की इच्छा है कि केंद्र सरकार उनके पिता की याद में अयोध्या में कोई स्मारक बनवाएगी तो अच्छा होगा। उनकी इस इच्छा से भी केंद्रीय नेतृत्व को अवगत कराया जाएगा।

ठाकुर ने कहा कि हासिम अंसारी के पुत्र इकबाल ने आश्वासन दिया है कि वह इस मुद्दे पर अपने लोगों से बातचीत करेंगे और जल्द ही इससे सभी को अवगत कराएंगे। उम्मीद है कि वह जल्द ही इस पर अपने समुदाय से बातचीत कर सार्थक पहल करेंगे, जिससे करोड़ों हिंदुओं की आस्था के केंद्र राम मंदिर का निर्माण होगा।