अरबपतियों की लिस्ट में ट्रंप का स्थान गिरा, बिल गेट्स पहले स्थान पर कायम

वॉशिंगटन। हर छह महीनें विश्व के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट जारी करने वाले फोर्ब्स ने एक बार फिर विश्व के 400 अकबपतियों लिस्ट जारी की है। फोर्ब्स की इस नई रिपोर्ट के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप की संपत्ति में कमी आई है और वो खीसक कर 156वें स्थान से 248 में स्थान पर पहुंच गए है। ट्रंप के साथ ही सबसे कम उम्र के धनी सैन्पचैट के 27 वर्षिय फाउंडर को भी 248वें स्तान पर जगह मिली है। मिली जानकारी के मुताबिक ये कमी न्यूयॉर्क शहर के व्यावसायिक क्षेत्रों के रिटेल में आई मंदी के कारण हुई है। हालांकि फोर्ब्स का मानना है कि ट्रंप की रैकिंग में गिरावट उनकी हाल के समय में मिली संपत्ति की जानकारी की वजह से आई है।

रिपोर्ट के मुताबिक काफी समय से ये ज्ञात नहीं था कि ट्रंप की कुल संपत्ति कितनी थी। ट्रंप ने साल 2015 में राष्ट्रपति चुनाव से पहले उन्होंने अपनी संपत्ति की घोषणा की थी। उस दौरान उन्होंने बताया था कि उनके पास 9.2 बिलियन डॉलर की संपत्ति है । हालांकि सेक्यूरिटी एेंड एक्सचेंज कमिशन से मिली जानकारी के मुताबिक उनकी संपत्ति 4 बिलियन डॉलर से ज्यादा नहीं है। फोर्ब्स पत्र‍िका की सीनियर वेल्थ एडिटर लूइसा क्रोल ने बताया है कि इस बार ट्रंप ने अपनी रैंकिंग अच्छी करने के लिए कोई आवेदन नहीं किया है, जबकि पिछली बार उन्होंने अपनी रैंकिंग को बेहतर करने के लिए कहा था।

माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर बिल गेट्स लगातार 24वीं बार अरबपतियों की लिस्ट में पहले स्थान पर बने हुए हैं. गेट्स की संपत्ति 89 बिलियन डॉलर है. लिस्ट में दूसरे नंबर पर ऐमजॉन के फाउंडर जेफ बेजोस 81.5 बिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ हैं।इस साल लिस्ट में सबसे ज्यादा बढ़ने वाली संपत्त‍ि मामले में फेसबुक के फाउंडर मार्क जकरबर्ग पहले नंबर पर हैं. मार्क की संपत्ति में 15.5 बिलियन डॉलर की बढ़ोतरी हुई है जिससे वह अपनी लिस्ट में चौथा स्थान पाने में कामयाब रहे हैो

फोर्ब्स की अमेरिका के 400 अरबपतियों नई लिस्ट में डोनाल्ड ट्रंप की रैंकिंग 156वें स्थान से गिरकर 248 हो गई है।ट्रंप के साथ ही इस लिस्ट में सबसे कम उम्र के धनी स्नैपचैट के 27 वर्षीय फाउंडर इवान स्पीगल भी 248वें स्थान पर हैं. यह गिरावट खासकर न्यूयॉर्क शहर और अन्य जगहों के व्यवसायिक क्षेत्रों के रिटेल मार्केट में आई मंदी के कारण हुआ। हालांकि फोर्ब्स पत्र‍िका की माने तो उनकी रैंकिंग में गिरावट उनकी संपत्ति‍ के बारे में मिली नई जान‍कारियों की वजह से भी आई है।