बिहार: समस्तीपुर में हुई फायरिंग को लेकर राजनीति तेज, रालोसपा ने कि जांच की मांग

समस्तीपुर। बिहार के समस्तीपुर के ताजपुर में आंदोलनकारियों पर हुई फायरिंग के विरोध में अब राजनीतिक दल भी कूद पड़े हैं। अपनी सत्ता को चमकाने के लिए इन दलों ने मृतको के परिजनों और जख्मी लोगों को मुआवजा देने की मांग की है। वहीं दूसरी तरफ घटना के विरोध में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने आज ताजुर में बंद का ऐलान कर दिया। घटना को लेकर रालोसपा के नेताओं ने जिला अध्यक्ष अनंत कुशवाहा के नेतृत्व में ताजपुर का दौरा करने के बाद राज्य सरकार से पुलिस फायरिंग की जांच जिला न्यायाधीश के नेतृत्व में करवाने की मांग की।

रालोसपा ने इलाज के लिए 5 लाख रुपये और मृत युवक के परिजनों के लिए 10 लाख रुपये के मुआवजा और परिवार के किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की है।
पंचायती राज प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष अमित कुमार, युवा रालोसपा के प्रदेश महासचिव अरविंद कुशवाहा, छात्र रालोसपा के जिला अध्यक्ष अशरफ आलम, नगर अध्यक्ष राम कुमार, मिथिलेश प्रसाद सिंह, रंजीत कुमार ने फायरिंग के लिए पुलिसकर्मी पर हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

वहीं लोक जनशक्ति पार्टी के जिला अध्यक्ष जितेंद्र कुशवाहा, नगर अध्यक्ष उमाशंकर मिश्र, नीरज भारद्वाज, बंटी जायसवाल, अजीत सिंह, रानी सिंह, मोहम्मद दिलशाद, गुड्डू ने शांतिपूर्ण आंदोलन पर फायरिंग की जितनी निन्दा की जाये कम है। उन्होंने इसे एनडीए सरकार को बदनाम करने के लिए रची गई साजिस करार दिया।